एडवांस्ड सर्च

अर्जुन की पानीपत को लेकर अफगानिस्तान में क्यों छिड़ी बहस? ये है पूरा मामला

अर्जुन कपूर, कृति सेनन और संजय दत्त स्टारर फिल्म पानीपत का ट्रेलर हाल ही में आया है. ये फिल्म भारत में हुई पानीपत की ऐतिहासिक लड़ाई के बारे में है. अब अफगानिस्तान में कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने भारतीय के निर्माताओं और प्रशासन को अब्दाली के किरदार को नकारात्मक न दिखाने की मांग की है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 06 November 2019
अर्जुन की पानीपत को लेकर अफगानिस्तान में क्यों छिड़ी बहस? ये है पूरा मामला संजय दत्त

अर्जुन कपूर, कृति सेनन और संजय दत्त स्टारर फिल्म पानीपत का ट्रेलर मंगलवार को आया है. ये फिल्म पानीपत की ऐतिहासिक लड़ाई के बारे में है. इसमें भारत के मराठाओं और अफगानी शासक अहमद शाह अब्दाली के बीच युद्ध हुआ था. अब अफगानिस्तान में कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने भारतीय के निर्माताओं और प्रशासन को अब्दाली के किरदार को नकारात्मक न दिखाने की मांग की है. दरअसल, अब्दाली को अफगान में सम्मान से 'अहमद शाह बाबा' कहते हैं.

संजय दत्त निभा रहे हैं अब्दाली का रोल

फिल्म पानीपत में संजय दत्त, अब्दाली का रोल निभा रहे हैं. वे इस फिल्म के विलेन बने हैं. अब्दुल्ला नूरी नाम के एक यूजर ने ट्वीट किया, डियर बॉलीवुड, मैं अफगानिस्तान से हूं और लाखों अन्य अफगानों की तरह बॉलीवुड का मुरीद हूं. संजय दत्त मेरे फेवरेट एक्टर हैं. मुझे उम्मीद है कि पानीपत फिल्म में अहमद शाह दुर्रानी (अब्दाली) का कोई अपमान नहीं किया होगा.'

हालांकि, कुछ अन्य यूजर्स ने समय से पहले प्रतिक्रिया देने को गलत बताया है. इसके अलावा अब्दाली की ऐतिहासिक भूमिका पर अलग तरह के नजरिए को भी स्वीकार करने की अपील की है. मोहम्मद कासिल अकबर सफी ने पश्तो भाषा के शमशाद टीवी की ओर से इस विषय पर डाले गए पोस्ट पर कमेंट करते हुए कहा, 'अहमद शाह बाबा हमारे हीरो हैं. हमें उनपर गर्व है. हालांकि, उन्हें (भारतीयों को) युद्ध में काफी नुकसान उठाना पड़ा था. वे उनके लिए हीरो नहीं हैं.'

ये है अफगानी यूजर्स की मांग

पानीपत के ट्रेलर रिलीज से एक दिन पहले संजय दत्त ने अपने लुक को ट्विटर शेयर किया था, जिसपर कमेंट करते हुए भारत के लिए अफगानिस्तान के पूर्व राजदूत शाइदा अब्दाली ने ट्वीट किया, 'डियर संजय दत्त जी, ऐतिहासिक तौर पर भारतीय सिनेमा की भारत और अफगान संबंधों को मजबूत करने में अहम भूमिका रही है. मुझे उम्मीद है कि 'पानीपत' फिल्म ने हमारे साझा इतिहास के इस अहम घटनाक्रम को लेकर इस बात को ध्यान में रखा होगा.'

अधिकारी नसीम शरीफी ने दिया आश्वासन

वहीं मुंबई में अफगानिस्तान के वाणिज्य दूतावास के अधिकारी नसीम शरीफी ने इस बात का जवाब देते हुए ट्वीट कर कहा, 'पिछले डेढ़ साल से भारत में मौजूद अफगान राजनयिक ये सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं कि पानीपत फिल्म में अहमद शाह बाबा का अपमान न हो. कोई अफगान इसे बर्दाश्त नहीं कर सकता है. संजय दत्त ने मुझे भरोसा दिलाया है कि अगर अहमद शाह बाबा का रोल खराब होता तो वो उसे करते ही नहीं.'

बता दें कि फिल्म पानीपत को डायरेक्टर आशुतोष ग्वारिकर ने बनाया है. ये फिल्म 6 दिसंबर को रिलीज होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay