एडवांस्ड सर्च

एयर अटैक पर अदनान सामी ने दी भारतीय वायुसेना को बधाई, ट्रोल होने पर दिया करारा जवाब

उन्होंने इसके अलावा एक पोस्ट को भी ट्विटर पर शेयर किया क्योंकि कई लोग उनके पोस्ट को पाकिस्तान के खिलाफ समझ रहे थे.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 28 February 2019
एयर अटैक पर अदनान सामी ने दी भारतीय वायुसेना को बधाई, ट्रोल होने पर दिया करारा जवाब अदनान सामी सोर्स यूट्यूब

पाकिस्तानी सिंगर अदनान सामी  ने 26 फरवरी को भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक्स को लेकर एक ट्वीट किया था. उन्होंने अपने इस ट्वीट में भारतीय वायुसेना को बधाई दी थी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था 'द फोर्स इज विद यू नरेंद्र मोदी जी. भारतीय वायु सेना का सम्मान करता हूं. आतंकवाद पर रोक लगे.'  हालांकि इस ट्वीट पर उन्हें कुछ पाकिस्तानी लोगों द्वारा बुरी तरह ट्रोल किया गया.

लेकिन अदनान भी इस मुद्दे पर चुप नहीं रहे और उन्होंने पाकिस्तानी ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया. उन्होंने लिखा 'प्यारे पाक ट्रोल्स, हकीकत की जांच करने का आपके अहम से कोई लेना-देना नहीं हैं. यहां सारी बात उन आतंकियों का सफाया करने की है जिनके बारे में आप दावा करते हैं कि वे तुम्हारे भी 'दुश्मन' हैं. सच न देखने की तुम्हारी सोच पर हंसी आती है. हां एक बात और, आपकी गालियां आपकी हकीकत को ही उजागर करती हैं'

गौरतलब है कि अदनान को साल 2016 में भारत की नागरिकता मिली थी. उन्होंने 1 जनवरी 2016 को मीडिया से बातचीत करते हुए इसे नए साल का तोहफा बताया था. उन्होंने इसके अलावा एक पोस्ट को भी ट्विटर पर शेयर किया क्योंकि कई लोग उनके पोस्ट को पाकिस्तान के खिलाफ समझ रहे थे.  अदनान ने इस पोस्ट में लिखा था - 'मेरा ट्वीट आतंकवादियों के कैंप पर हमले को लेकर था ना कि पाकिस्तान के लोगों को लेकर. मैं मानता हूं कि आतंकवाद एक ग्लोबल समस्या है और मैं आतंकवाद का पुरजोर विरोध करता हूं. हालांकि मुझे अपने इस ट्वीट पर ट्रोल किया गया और इसकी प्रतिक्रिया स्वरुप मैंने उन लोगों को जवाब दिया जो मुझे ट्रोल कर रहे थे. इसका मतलब ये नहीं कि मैं सभी पाकिस्तानियों का विरोध कर रहा था.

उन्होंने आगे लिखा - 'मैंने हमेशा से ही शांति, भाईचारे और मानवता की वकालत की है और मेरा दिल उन सभी लोगों के लिए पसीजता है जो आतंकी हमलों का शिकार हुए हैं  फिर वो चाहे पुलवामा में हो, उरी में हो, पेशावर में हो, मुंबई में हो, अफगानिस्तान में हो या पेरिस में हो. मैं उन सभी प्रयासों का समर्थन करता हूं जो आतंकवाद को जड़ से मिटाने की कोशिश कर रहे हैं. आपस में लड़ने के बजाए हमें इस समस्या के लिए एकजुट होने की जरुरत है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay