एडवांस्ड सर्च

रिद्धिमा पंडित बोलीं- बुरे सपने की तरह है लॉकडाउन, लगता है फिल्म में हूं

रिद्धिमा ने कहा कि दिन मुश्किल से बीत रह हैं, मुझे लगता है कि मैं एक बुरे सपने में फंस गई हूं और कोई आकर मुझे जगाएगा.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 27 March 2020
रिद्धिमा पंडित बोलीं- बुरे सपने की तरह है लॉकडाउन, लगता है फिल्म में हूं रिद्धिमा पंडित

टीवी एक्टर रिद्धिमा पंडित कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के चलते परेशान हैं. उन्हें लगता है कि ये एक बुरा सपना है. बता दें कि 21 दिनों के लॉकडाउन के चलते पूरे भारत में बंदी है.

रिद्धिमा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ''दिन मुश्किल से बीत रह हैं, मुझे लगता है कि मैं एक बुरे सपने में फंस गई हूं और कोई आकर मुझे जगाएगा. मुझे लगता है कि ये एक मूवी जैसा है, हम सभी लोग एक फिल्म हैं. ईमानदारी से कहूं तो अच्छी फीलिंग नहीं आ रही है. ''

मां-पिता के साथ वक्त बिता रही हूं

उन्होंने ये भी कहा, 'हालात बहुत ही खाराब हैं पर हम खुशकिस्मत हैं कि हम अपने माता-पिता के साथ रह पा रहे हैं. मैं पूरी कोशिश कर रही हूं के वे सेफ रहे हैं, हर संभव केयर की जा रही है. मुझे सच में खुशी हो रही है कि मैं उनके साथ कुछ वक्त बिता पा रही हूं.'

लॉकडाउन में फैंस को बड़ा तोहफा, फिर टेलीकास्ट होगी रामायण, जानें कब-कहां देख पाएंगे?

Video: क्वारनटीन में पोछा लगाते हुए कैसे करें योगा? अदा शर्मा से सीखें

'हर दिन मैं कुछ फिल्में देख रही हूं, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है. इसलिए मैं इसे एंजॉय कर रही हूं. लेकिन बीच में ऐसा वक्त आता है जब लगता है कि अब क्या करें? आपने एक्सरसाइज कर ली, खाना खा लिया, खाना बना लिया, मां-पिता के साथ वक्त बिता लिया और आप फिर अपने रूम में आते हैं और फिर उसी सर्किल को रिपीट करना होता है. क्योंकि आप बाहर तो जा नहीं सकते, ऐसे में कभी कभी ये बहुत डरावना भी लगता है. लेकिन उम्मीद है कि हम उस मुहाने पर नहीं पहुंचेंगे जहां दिक्कत हो, सब कुछ ठीक हो जाए.'

बाकी लोगों की तरह रिद्धिमा ने भी गुडी पड़वा क्वारनटीन में मनाया. उन्होंने एक पिक्चर भी शेयर की थी, जिसमें वे पारंपरिक मराठी परिधान में नजर आ रही थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay