एडवांस्ड सर्च

हैदर में बिना ग्लिसरीन ही रो पड़े शाहिद कपूर

खबर है कि विशाल भारद्वाज निर्देशित फिल्म ‘हैदर’ में शाहिद कपूर को अंतिम कुछ दृश्यों में रोना था. अपने किरदार को जीवंत बनाने में शाहिद इस कदर डूब गए कि उन्हें रोने के लिए ग्लिसरीन की जरूरत ही नहीं पडी. 

Advertisement
aajtak.in
नरेंद्र सैनीनई दिल्ली, 24 July 2014
हैदर में बिना ग्लिसरीन ही रो पड़े शाहिद कपूर

खबर है कि विशाल भारद्वाज निर्देशित फिल्म ‘हैदर’ में शाहिद कपूर को अंतिम कुछ दृश्यों में रोना था. अपने किरदार को जीवंत बनाने में शाहिद इस कदर डूब गए कि उन्हें रोने के लिए ग्लिसरीन की जरूरत ही नहीं पडी.

वे सचमुच में इस तरह रोने लगे कि सीन एकदम वास्तविक बन गया. वैसे इससे दो फायदे हुए. जहां एक तरफ शाहिद के रोने से उनका इमोशनल साइड लोगों ने देखा वहीं विशाल को अपने दृश्यों में रियल इमोशन मिल गए. 

सूत्रों की मानें तो इस दृश्य के बाद विशाल, शाहिद की परफॉर्मंस से इस कदर भावुक हो गए कि उन्होंने उठकर रोते शाहिद को बांहों में भर लिया. गौरतलब है कि ‘हैदर’ से पहले विशाल और शाहिद की यह जोडी ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘कमीने’ में नजर आ चुकी है.

विशाल की अगली फिल्म ‘हैदर’ अंग्रेजी साहित्यकार विलियम शेक्सपियर के मशहूर उपन्यास हैमलेट पर आधारित है. फिलहाल इस फिल्म की पूरी शूटिंग कश्मीर में हुई है. पूरे भारत में यह फिल्म 2 अक्तूबर को रिलीज होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay