एडवांस्ड सर्च

मोदी का एक साल: सालभर में कुछ यूं केंद्र ने बनाया अपना ही मजाक

नरेंद्र मोदी सरकार भले ही 200 रैलियों में अपने सरकार की उपलब्धियों को गिनाए. लेकिन असल में सरकार का पहला साल विडंबनाओं से घिरा रहा.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: हर्षिता]नई दिल्ली, 26 May 2015
मोदी का एक साल: सालभर में कुछ यूं केंद्र ने बनाया अपना ही मजाक नरेंद्र मोदी सरकार की पहली सालगिरह

अगले कुछ दिनों तक आप चाहें कोई भी न्यूज चैनल देखें, कोई सा भी अखबार उठाएं या भारत की कोई भी न्यूज वेबसाइट पर नजर दौड़ाए, आपको नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियां सुनने-देखने-पढ़ने को मिलेंगी. केंद्र ने बंदोबस्त ही कुछ ऐसा कर रखा है. जब तक इनके 200 रैलियों और जनसभाओं का टारगेट पूरा नहीं होगा, आपको ये सब 'झेलना' होगा. फिर चाहे हर मंत्री, हर रैली में एक ही बात क्यों ना रट्टा लगाता रहे.

खैर, भले ही 56 इंच सीने की इस सरकार #SaalEkShuruaatAnek के नाम पर अपनी कामयाबियां गिनाए. हम आपको उन्हीं योजनाओं और फैसलों का दूसरा पहलू दिखाते हैं, जो बेशक सरकार की इस सेलिब्रेशन ड्रिल में आपको नहीं दिखेंगी.

 










सौजन्य: newsflicks

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay