एडवांस्ड सर्च

मोदी राज में तकनीक बदल रही लोगों की जिंदगी: डॉ. हर्षवर्धन

वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के निदेशक डॉ गिरीश साहनी ने देश के साइंसदानों की कामयाबियां मीडिया के सामने रखीं.

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018
संजय शर्मा [Edited By: दीपक शर्मा]नई दिल्ली, 27 May 2017
मोदी राज में तकनीक बदल रही लोगों की जिंदगी: डॉ. हर्षवर्धन फाइल फोटो

मोदी सरकार की तीसरी सालगिरह पर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने अपने महकमे की उपलब्धियां गिनवाईं. उनका दावा था कि मोदी सरकार के राज में वैज्ञानिक रिसर्च गरीबों, खासकर ग्रामीण इलाकों के लोगों में बड़ा बदलाव ला रही है. उन्होंने बताया कि भारतीय वैज्ञानिकों ने बीजीआर-34 समेत कई टीके और दवाएं विकसित करने में कामयाबी हासिल की है.

'विज्ञान बदल रहा जिंदगी'
वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के निदेशक डॉ. गिरीश साहनी ने देश के साइंसदानों की कामयाबियां मीडिया के सामने रखीं. उन्होंने इस सिलसिले में खून के थक्के जमने से रोकने वाली दवा कलॉटबस्टर, शुगर में काम आने वाली दवा बीजीआर-34, गर्भनिरोधक गोलियों के अलावा छोटे किसानों के लिए विकसित ट्रैक्टर का जिक्र किया. डॉ साहनी का कहना था कि सीएसआईआर ने बेहद कम राजस्व में ये मील के पत्थर पार किये हैं. उनका दावा था कि सीएसआईआर की महज छह तकनीकों से ही देश को करीब 32 हजार करोड़ का फायदा हुआ है.

दवाओं से बढ़ी कमाई
डॉ. साहनी ने कहा कि शुगर की बीमारी में काम आने वाली दवा बीजीआर-34 से सीएसआईआर को 30 लाख रुपये का राजस्व मिला है. इसकी बिक्री पर 3 फीसदी रॉयल्टी मिल रही है और ये दवा बाजार में खासी हिट है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay