एडवांस्ड सर्च

Advertisement

सेमीफाइनल के बाद से पेट में था दर्द: सुशील

लंदन ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार ने रविवार को कहा कि वह अगले ओलंपिक खेलों में पीला तमगा हासिल करने की कोशिश करेंगे.
सेमीफाइनल के बाद से पेट में था दर्द: सुशील
भाषालंदन, 12 August 2012

लंदन ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार ने रविवार को कहा कि वह अगले ओलंपिक खेलों में पीला तमगा हासिल करने की कोशिश करेंगे.

लगातार दो ओलंपिक में व्यक्तिगत स्पर्धा का पदक जीतकर इतिहास रचने वाले सुशील ने कहा, ‘सेमीफाइनल के बाद मेरे पेट में दर्द था. मुझे डिहाइड्रेशन हो गया था. मेरा वजन कम हो गया था और मुझे कमजोरी महसूस हो रही थी. हमने रजत पदक जीता है और अगले ओलंपिक में स्वर्ण जीतने की कोशिश करूंगा.’ उन्होंने कहा, ‘मैने 15 दिन पहले कहा था कि हम अच्छा करेंगे. पदक का रंग कौन सा होगा, यह तय नहीं था. मुझे खुशी है कि योगेश्वर को कांस्य मिला. हमारा प्रदर्शन लगातार अच्छा होगा.’ सुशील ने कहा, ‘मैने बीजिंग में कांस्य जीता था और अब रजत है. हम लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और उम्मीद है कि अगले ओलंपिक में स्वर्ण जीत सकूंगा.’ उन्होंने अपना रजत पदक कोच सतपाल, माता पिता, दोस्तों और पूरे सहयोगी स्टाफ को समर्पित किया.

उन्होंने कहा, ‘जब आप हमें लड़ते देखते हैं तो हमे अकेले देखते हैं. लेकिन हमारे पीछे कई लोगों की मेहनत होती है जो हमारे बराबर मेहनत करते हैं. यह मेरे देशवासियों का आशीर्वाद है जो मुझे यहां तक लाया.’

यह पूछने पर कि जीत का जश्न कैसे मनायेंगे, सुशील ने कहा, ‘पहले मैं कुछ आराम करूंगा. मैं पिछले पांच छह महीने से काफी मेहनत कर रहा था. अब आराम जरूरी है.’ टीम मैनेजर राज सिंह ने कहा कि सेमीफाइनल के बाद सुशील डिहाइड्रेशन का शिकार हो गया और उसके कंधे में भी चोट थी.

उन्होंने कहा, ‘उसकी तबीयत ठीक नहीं थी. उसे तीन बार उल्टी हुई और वह मुकाबले से पहले छह बार टायलेट गया. वह काफी कमजोर महसूस कर रहा था और अपने प्रतिद्वंद्वी को चुनौती दे पाने में सक्षम नहीं था.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay