एडवांस्ड सर्च

लंदन ओलंपिक: अंतिम स्‍थान पर भारतीय हॉकी टीम

भारतीय हाकी टीम का लंदन ओलंपिक में शर्मनाक प्रदर्शन 11वें और 12वें स्थान के प्ले आफ में भी बदस्तूर जारी रहा जिसमें उसे दक्षिण अफ्रीका की कमजोर टीम से 2-3 से हार का सामना करना पड़ा.

Advertisement
भाषालंदन, 11 August 2012
लंदन ओलंपिक: अंतिम स्‍थान पर भारतीय हॉकी टीम

भारतीय हाकी टीम का लंदन ओलंपिक में शर्मनाक प्रदर्शन 11वें और 12वें स्थान के प्ले आफ में भी बदस्तूर जारी रहा जिसमें उसे दक्षिण अफ्रीका की कमजोर टीम से 2-3 से हार का सामना करना पड़ा.

भारतीय टीम इस तरह से 12वें और अंतिम स्थान पर रही जो आठ बार के चैंपियन का ओलंपिक में सबसे बेकार प्रदर्शन है. भारतीय टीम ने लंदन में अपना प्रत्येक मैच गंवाया. ओलंपिक में ऐसा पहली बार हुआ जबकि भारत कोई भी मैच नहीं जीत पाया.

इससे पहले ओलंपिक में टीम का सबसे बेकार प्रदर्शन 1996 अटलांटा ओलंपिक में था. तब वह आठवें स्थान पर रही थी. इसके अलावा भारत बीजिंग ओलंपिक 2008 के लिये क्वालीफाई नहीं कर पाया था. दक्षिण अफ्रीका के लिये एंड्रयू क्रोन्ये ने आठवें मिनट में ही गोल दागकर अपनी टीम को बढ़त दिला दी. संदीप सिंह ने 14वें मिनट पेनल्टी कार्नर पर गोल करके भारत को बराबरी दिलायी.

टिमोथी ड्रमंड ने 34वें मिनट में मैदानी गोल किया जिससे दक्षिण अफ्रीका मध्यांतर तक 2-1 से आगे था. लायड नोरिस जोन्स ने अंतिम हूटर बजने से पांच मिनट पहले यह 3-1 कर दिया. धर्मवीर सिंह ने इसके दो मिनट बाद 67वें मिनट में गोल दागा लेकिन इससे भारत हार का अंतर ही कम कर पाया.

भारत की इस हार ने 1986 में लंदन में हुए विश्व कप की यादें ताजा हो गयी. उस समय भी भारत 12 टीमों के टूर्नामेंट में आखिरी स्थान पर रहा था.

तब प्लेआफ में उसे पाकिस्तान ने हराया था. उम्मीद थी कि टूर्नामेंट की सबसे कमजोर मानी जा रही टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारतीय अच्छा प्रदर्शन करके आखिरी स्थान पर आने से बचने की कोशिश करेंगे लेकिन फिर से रक्षापंक्ति और अग्रिम पंक्ति की कमजोरियां खुलकर सामने आयी.

यह पहला अवसर है जबकि भारत ओलंपिक जैसे किसी बड़े टूर्नामेंट में दक्षिण अफ्रीका के हाथों पराजित हुआ. भारत को मैच में चार पेनल्टी कार्नर मिले जिसमें से वह केवल एक पर गोल कर पाया. उसने इसके अलावा दस शाट गोल पर जमाये लेकिन इनमें से केवल एक पर ही गोल हो पाया.

दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका ने 11 बार भारतीय गोल पर हमला किया और इनमें से तीन बार वह गोल करने में सफल रहा. भारत लंदन ओलंपिक में एक भी मैच नहीं जीत पाया. उसे ग्रुप बी में हालैंड ने 3-2, न्यूजीलैंड ने 3-1 से, जर्मनी ने 5-2 से, दक्षिण कोरिया ने 4-1 और बेल्जियम ने 3-0 से हराया था.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay