एडवांस्ड सर्च

Advertisement

प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक

aajtak.in [Edited by: नेहा फरहीन]
04 September 2018
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
1/10
प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को खानपान का खास ख्याल रखना जरूरी होता है. दरअसल, मां के खाने से गर्भ में पल रहा बच्चा सीधे तौर पर प्रभावित होता है. इसलिए प्रेग्नेंसी के दौरान डॉक्टर्स खानपान में संयम बरतने की सलाह देते हैं. कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान खाने से मना किया जाता है क्योंकि ये मां के साथ-साथ गर्भ में पल रहे बच्चे की सेहत के लिए खतरनाक हो सकती हैं. आइए जानते हैं प्रेग्नेंसी के दौरान किन चीजों के सेवन से बचना चाहिए और क्यों...
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
2/10
कैफीन- प्रेग्नेंसी के दौरान कैफीन का इस्तेमाल गर्भ में पल रहे शिशु के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. इसलिए जितना हो सके प्रेग्नेंसी के दौरान कैफीन के सेवन से बचने की कोशिश करें. अगर आप कैफीन का इस्तेमाल करती हैं तो दिनभर में केवल 200 मिलीग्राम का ही सेवन करें.  प्रेग्नेंसी के दौरान चॉकलेट का भी कम से कम सेवन करें क्योंकि चॉकलेट में भी कैफीन मौजूद होता है, जो महिला और शिशु दोनोंं की सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है.
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
3/10
अल्कोहल- सभी जानते हैं कि अल्कोहल सेहत के लिए हानिकारक होती है. प्रेग्नेंसी में अल्कोहल का सेवन महिला के साथ-साथ गर्भ में पल रहे शिशु के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. अल्कोहल के अधिक सेवन से गर्भपात होने की संभावना भी अधिक हो जाती है, साथ ही बच्चे के विकास पर भी बुरा असर पड़ता है.

प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
4/10
कच्चा अंडा- प्रेग्नेंसी के दौरान कच्चा अंडा न खाने की सलाह दी जाती है. दरअसल, अंडे में साल्मोनेला बैक्टीरिया होता है, जिसके कारण फूड प्वॉयजनिंग हो सकता है. प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. इसलिए इस बैक्टीरिया के कारण वो फूड प्वॉयजनिंग की शिकार हो सकती हैं. यहां तक कि साल्मोनेला बैक्टीरियम गर्भ में पल रहे बच्चे को सीधे तौर पर प्रभावित करता है. गर्भवती महिला को इससे उल्टी, दस्त, पेट में दर्द, सिर में दर्द, बुखार आदि हो सकता है.

प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
5/10
सॉफ्ट चीज़- प्रेग्नेंसी के दौरान सॉफ्ट चीज खाने से बचें. दरअसल, अनपाश्चराइज्ड सॉफ्ट चीज में लिस्टेरिया मौजूद होता है, जिससे गर्भ में पल रहे शिशु को इंफेक्शन का खतरा रहता है.
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
6/10
फ्रोजेन फूड- पोषक तत्वों के मामले में फ्रोजेन फूड बिल्कुल ठीक नहीं होते हैं. दरअसल, इसमें विटामिन सी, विटामिन बी1, बी2 और विटामिन ए नहीं होते. फलों और सब्ज‍ियों को ताजा खाया जाए तो ही अच्छा होता है. ये बात भी मायने रखती है कि फ्रोजेन फूड को किस तरह से रखा गया है. प्रेग्नेंसी में यह फूड प्वॉयजनिंग की वजह भी बन सकता है.
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
7/10
कच्चा सी-फूड- प्रेग्नेंसी के दौरान कच्चा और आधा पका हुआ सी-फूड खाने से बचना चाहिए. दरअसल, सी-फूड में बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो गर्भ में पल रहे शिशु को नुकसान पहुंचा सकते हैं.
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
8/10
पपीता- यूं तो पपीता बेहद फायदेमंद होता है. लेकिन गर्भावस्था के दौरान पपीता का सेवन खतरनाक साबित हो सकता है. पपीता कच्चा हो या पका हुआ. गर्भवती महिला को इसके सेवन से बचना चाहिए. क्योंकि प्रेग्नेंसी में पपीता खाने से मिसकैरिज यानी गर्भपात का खतरा रहता है.पपीता में लेटेक्स होता है जो यूटेराइन कॉनट्रैक्शन शुरू कर देता है. इसकी वजह से प्रेग्नेंसी में समय से पहले ही लेबर पेन शुरू हो सकता है और गर्भपात हो सकता है.
प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
9/10
सॉफ्ट ड्रिंक्स- गर्भावस्था में सॉफ्ट ड्रिंक्स पीने से भी बचना चाहिए. सॉफ्ट ड्रिंक्स पीने वाली महिलाओं के बच्चों को कम उम्र में ही पाचन और वजन से जुड़ी समस्याएं हो जाती हैं. इसलिए विशेषज्ञ भी गर्भावस्था में सॉफ्ट ड्रिंक नहीं पीने की सलाह देते हैं.

प्रेग्नेंसी में इन 9 चीजों का सेवन बच्चे के लिए हो सकता है खतरनाक
10/10
प्रोसेस्ड जंक फूड- गर्भवती महिलाओं को दूसरी महिलाओं के मुकाबले ज्यादा न्यूट्रिएंट्स की जरूरत होती है. लेकिन प्रोसेस्ड जंक फूड में न्यूट्रिएंट्स की मात्रा कम और कैलोरी अधिक मौजूद होती है. साथ ही इसमें शुगर और फैट भी अधिक मात्रा में होते हैं. गर्भावस्था के दौरान ज्यादा शुगर के सेवन से टाइप-2 डायबिटीज और दिल की बीमारी होने का खतरा भी अधिक रहता है.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay