एडवांस्ड सर्च

ओडिशा में मोदी के काफिले की तलाशी लेने वाले अधिकारी को चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड

ओडिशा में पीएम मोदी के काफिल की तलाशी लेने की कोशिश करने वाले आईएएस को चुनाव आयोग ने सस्पेंड कर दिया है. इस  मामले में पीएमओ ने दखल दिया था, जिसके बाद चुनाव आयोग ने कार्रवाई की.

Advertisement
ऐश्वर्या पालीवाल/संजय शर्मा [Edited By: टीके श्रीवास्तव]नई दिल्ली, 18 April 2019
ओडिशा में मोदी के काफिले की तलाशी लेने वाले अधिकारी को चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड सांकेतिक फोटो

चुनाव आयोग ने मोहम्मद मोहसिन नामक अधिकारी को सस्पेंड कर दिया है. मोहसिन ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले की तलाशी लेने की कोशिश की थी, लेकिन उन्हें ऐसा नहीं करने दिया गया था. कर्नाटक (1996) बैच के आईएएस संबलपुर में जनरल ऑब्जर्वर के तौर पर नियुक्त थे.

इस मामले में पीएमओ ने दखल दिया था और चुनाव आयोग के अधिकारी इस मामले की जांच करने के लिए ओडिशा भी गए थे. पीएमओ के हस्तक्षेप के बाद उन्हें ड्यूटी से सस्पेंड कर दिया गया है. उन्हें चुनाव आयोग ने एसपीजी सुरक्षा प्राप्त शख्स के बारे में बने निर्देशों के उल्लंघन के आरोप में सस्पेंड किया गया है. इस पहले चुनाव आयोग ने बदजुबानी को लेकर नेताओं पर सख्ती बरती है.   

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के संबलपुर में चुनावी दौरा किया था. कर्नाटक (1996) बैच के आईएएस मोहम्मद मोहसिन संबलपुर में जनरल ऑब्जर्वर के तौर पर नियुक्त थे. उन्होंने पीएम मोदी के काफिल की तलाशी लेने की कोशिश की थी. इस बाबत पीएमओ ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी, जिसके बाद चुनाव आयोग की टीम पूरे घटनाक्रम का जायजा लेने ओडिशा गई. इस दौरान यहां चुनाव आयोग को एसपीजी सुरक्षा के बावजूद तलाशी लेने की जानकारी मिली. इसके बाद चुनाव आयोग ने निर्देंशों के उल्लंघन के आरोप में आईएएस मोहम्मद मोहसिन को संस्पेंड कर दिया.

आयोग ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए एक ही दिन में चार दिग्गज नेताओं पर बैन लगाया था. चुनाव आयोग ने भड़काऊ भाषण के लिए पहले यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ और बसपा मुखिया मायवती पर प्रतिबंध लगाया. वहीं, शाम तक एक और बड़ी कार्रवाई करते हुए आयोग ने सपा नेता आजम खान और केंद्रीय मंत्री व बीजेपी नेता मेनका गांधी के चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी थी.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को संबलपुर में जनसभा करके पश्चिम ओडिशा की तीन लोकसभा और 21 विधानसभा सीटों के लिए भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने की पूरी कोशिश की थी. यहां पर सुंदरगढ़, बरगढ़ और संबलपुल लोकसभा सीट और इनकी विधानसभा सीटों पर 18 तारीख को मतदान होना है. लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा था कि ओडिशा और दिल्ली में दोनों जगह पर भाजपा की सरकार बनेगी. मोदी ने भीड़ से नारे भी लगवाए थे. मोदी ने कहा 'दिल्ली में फिर मोदी सरकार, ओडिशा में भाजपा सरकार.'

मोदी ने कहा कि आप लोगों के मूड को देखकर स्पष्ट हो गया है इस बार डबल इंजन वाली सरकार बननी है. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और बीजू जनता दल दोनों ही पार्टियों पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि हमारे देश में प्राकृतिक संसाधन की कोई कमी नहीं है, जरूरत है उसे सही ढंग से कार्य कार्य में लाने की. उन्होंने कहा कि खनन कानून में बदलाव करके जिला मिनरल फंड सृजित किया जिसमें ओडिशा को 6 हजार करोड़ मिला पर खर्च किया सिर्फ एक हजार करोड़. यह गरीब जनता के साथ धोखा है.

चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay