एडवांस्ड सर्च

भारत और इंग्लैंड का इंतजार कर रही है ईडन की जीवंत पिच

ईडन गार्डन्स ने पिछली बार जब एकदिवसीय मैच का आयोजन किया था तो इस मैच में 632 रन बने थे और भारत ने श्रीलंका के विशाल लक्ष्य को हासिल किया था. इस बार भी कल भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले क्रिकेट मैच के लिए जीवंत पिच दोनों टीमों का इंतजार कर रही है.

Advertisement
भाषाकोलकाता, 24 October 2011
भारत और इंग्लैंड का इंतजार कर रही है ईडन की जीवंत पिच ईडन गार्डन्स

ईडन गार्डन्स ने पिछली बार जब एकदिवसीय मैच का आयोजन किया था तो इस मैच में 632 रन बने थे और भारत ने श्रीलंका के विशाल लक्ष्य को हासिल किया था. इस बार भी कल भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले क्रिकेट मैच के लिए जीवंत पिच दोनों टीमों का इंतजार कर रही है.

बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के पिच क्यूरेटर प्रबीर मुखर्जी ने होने वाले पांचवें और अंतिम एकदिवसीय के लिए जीवंत विकेट का वादा किया. भारत इस मैच में जीत के साथ 5-0 से इंग्लैंड का वाइटवाश कर सकता है.

मुखर्जी ने संभावित स्कोर के बारे में भविष्यवाणी करने से इंकार करते हुए कहा, ‘हमने ऐसी विकेट तैयार की है जो टूटेगी नहीं और इसमें समान उछाल रहेगा. यह आदर्श वनडे विकेट होगी जिसमें काफी रन बनेंगे.’ यह पूछने पर कि टास जीतने वाली टीम को क्या करना चाहिए, मुखर्जी ने कहा, ‘मैं इस बारे में कुछ नहीं कहूंगा. कप्तान इसे सबसे बेहतर जानते हैं.’ इस पिच पर थोड़ी घास है और इससे तेज गेंदबाजों को थोड़ी मदद मिल सकती है जबकि मैच आगे बढ़ने के साथ स्पिनरों को भी फायदा मिलेगा.

सर्दियों का मौसम करीब होने के कारण ओस अहम भूमिका निभा सकता है और क्यूरेटर ने कहा कि वह ओस से निपटने के लिए सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं.

मुखर्जी ने कहा, ‘‘आजकल काफी ओस नहीं है. लेकिन हमने कैमिकल स्प्रे जैसे सभी ऐहतियाती कदम उठाये हैं.’ आसमान में बादल छाये होने के कारण कैब ने बारिश की स्थिति से निपटने के लिए हरसंभव प्रयास किये हैं.

राज्य संघ ने पूरे मैदान के लिए 50 से अधिक कवर का इंतजाम किया है जबकि 50 से अधिक मैदानकर्मियों की भी तैनाती होगी.
पिछले महीने बारिश के कारण कैब को चैम्पियन्स लीग ट्वेंटी20 मैचों की मेजबानी गंवानी पड़ी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay