एडवांस्ड सर्च

नार्को टेस्‍ट में सुधाकर ने उगले कई राज

मालेगांव ब्‍लास्‍ट मामले के आरोपी सुधाकर चतुर्वेदी ने बैंगलोर में हुए नार्को टेस्ट में कई अहम खुलासे किए हैं.

Advertisement
aajtak.in
आज तक ब्‍यूरोबैंगलोर, 19 November 2008
नार्को टेस्‍ट में सुधाकर ने उगले कई राज

मालेगांव ब्‍लास्‍ट मामले के आरोपी सुधाकर चतुर्वेदी ने बैंगलोर में हुए नार्को टेस्ट में कई अहम खुलासे किए हैं.

सूत्रों के मुताबिक नार्को टेस्ट में सुधाकर ने यह बात मानी है कि वह लेफ्टिनेंट कर्नल पुरोहित और साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को जानता है. उसने यह बात भी कबूल की है कि वह नासिक के एक स्कूल में हुई उस बैठक में मौजूद था, जहां मालेगांव ब्लास्ट की साजिश रची गई थी. सुधाकर ने कहा कि बम बनाने का काम स्थानीय मुस्लिम युवकों को सौंपा गया था. उन्हें इस काम के लिए 22 हज़ार रुपये दिए गए थे.

सुधाकर ने खुलासा किया है कि रामजी नाम का एक व्‍यक्ति मोटरसाइकिल लेकर नासिक आया था. रामजी वही आदमी है जिसकी मुंबई एटीएस को तलाश है. मालेगांव ब्लास्ट में मोटरसाइकिल का इस्तेमाल हुआ था. सुधाकर का नार्को एनालिसिस टेस्ट बैंगलोर के बॉरिंग हॉस्पिटल में किया गया.

गौरतलब है कि सुधाकर चतुर्वेदी को चार नवंबर को गीतांजलि एक्सप्रेस से तब पकडा गया था, जब वह आर्मी के फर्जी पहचान पत्र पर सफर कर रहा था. उसने बताया कि उसे यह पहचान पत्र लेफ्टीनेट कर्नल पुरोहित ने दिया था. बाद में पूछताछ करने पर पता चला कि वह अभिनव भारत संगठन का सदस्य है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay