एडवांस्ड सर्च

Advertisement

किसानों को 5 प्रतिशत की दर पर कृषि ऋण

किसानों को 5 प्रतिशत की दर पर कृषि ऋण
भाषानई दिल्‍ली, 26 February 2010

 

नयी दिल्ली, 26 फरवरी :भाषा: सरकार ने समय पर बकाया चुकाने वाले किसानों को पांच प्रतिशत की सब्सिडीशुदा दर पर कृषि रिण देने 
की आज घोषणा की. यह ब्याज दर बाजार दरों से दो प्रतिशत कम है.

वित्तमंत्री प्रणव मुखर्जी ने 2010-11 का आम बजट पेश करते हुए यह घोषणा की. उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र के लिए रिण आवंटन लक्ष्य 
को अगले वित्त वर्ष के लिए बढाकर 3,75,000 करोड़ रुपये कर दिया गया है जो 2009-10 में 3,25,000 करोड़ रु था.

उन्होंने कहा, े पिछले बजट में मैंने लघु अवधि के कृषि रिणों को समय पर चुकाने वाले किसानों को एक प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज सहायता 
दी थी. े उन्होंने कहा, े मैं समय पर कृषि रिण चुकाने पर इस सहायता को 2010-11 के लिए बढाकर दो प्रतिशत करने का प्रस्ताव 
करता हूं. इस प्रकार इस तरह के किसानों के लिए प्रभावी ब्याज दर अब पांच प्रतिशत सालाना रहेगी. े किसान तीन लाख रुपये तक का 
लघु अवधि कृषि रिण सात प्रतिशत की ब्याज दर से पाते हैं.

मुखर्जी ने 71,000 करोड़ रुपये की कृषि रिण योजना को जून 2010 तक बढाने की घोषणा की जो 31 दिसंबर 2009 को समाप्त हो 
गई थी. देश के चार करोड़ किसानों को इस योजना का लाभ मिलता है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay