एडवांस्ड सर्च

महाराष्‍ट्र में नई सरकार का गठन, अशोक चव्‍हाण बने सीएम

लंबे इंतजार के बात महाराष्‍ट्र में नई सरकार का गठन हो गया है. शाम को अशोक चव्‍हाण ने मुख्‍यमंत्री और छगन भुजबल ने उपमुख्‍यमंत्री के रूप में शपथ ली.

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018
आज तक ब्‍यूरो/ भाषामुंबई, 08 November 2009
महाराष्‍ट्र में नई सरकार का गठन, अशोक चव्‍हाण बने सीएम

लंबे इंतजार के बात महाराष्‍ट्र में नई सरकार का गठन हो गया है. राज्‍यपाल एस. सी. जमीर ने शनिवार शाम अशोक चव्‍हाण को मुख्‍यमंत्री और छगन भुजबल को उपमुख्‍यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई.
 
विभागों के बारे में स्थिति स्‍पष्‍ट नहीं
अशोक चव्हाण की अगुवाई में कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन की सरकार ने शाम को शपथ ली. अशोक चव्‍हाण ने प्रदेश में दूसरी बार मुख्‍यमंत्री की कुर्सी संभाली है. विभागों के बारे में‍ अब तक पूरी तरह स्थिति स्‍पष्‍ट नहीं हो पाई है.

शपथ लेने वाले अन्‍य मंत्रियों के नाम
नारायण राणे, आर आर पाटिल, पतंगराव कदम, शिवाजी राव मोघे, अजीत पवार, राधाकृष्ण विखे पाटिल, जयंत पाटिल, हषर्वर्धन पाटिल, गणेश नाइक, बालासाहब थोराट, लक्ष्मणराव धोबले, अनिल देशमुख, जयदत्त क्षीरसागर, मनोहर नाइक, विजयकुमार गावित, सुनील ततकारे, रामराजे नाइक निंबालकर, बबनराव पचपुते, राजेश टोपे, राजेंद्र दरदा, नसीम खान, सुरेश शेट्टी, हसन मुशरिफ, नितिन राउत, सुभाष जनक.
 
कैबिनेट में शामिल नहीं किए गए
जिन कैबिनेट मंत्रियों को शामिल नहीं किया गया उनके नाम हैं- विजयसिंह मोहिते पाटिल, सुरूपसिंह नाइक, दिलीप वालसे पाटिल, अनीस अहमद, विमल मुंडाडा, चंद्रकांत हंदोरे, नवाब मलिक, विनय कोरे, राजेंद्र सिंघाने, रविसेठ पाटिल, मदन पाटिल, रमेशचंद्र बांग, दिलीप देशमुख.
 
राजनीतिक अनिश्चितता का अंत
गौरतलब है कि एक पखवाड़े तक खींचतान और मंत्रिमंडल बंटवारे को लेकर मारामारी चलने के बाद राज्यपाल ने कांग्रेस और एनसीपी को फटकार लगाते हुए जनादेश का सम्‍मान करने की बात कही थी. इसके बाद कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन ने नई सरकार बनाने दावा पेश किया. अशोक चव्हाण पहले ही राज्यपाल को 170 विधायको का समर्थन पत्र सौंप चुके हैं.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay