एडवांस्ड सर्च

Advertisement

10 तक: हिंदू-मुस्लिम की हवा में उड़े असल चुनावी मुद्दे

चित्रा त्रिपाठी [Edited By: स्वयं प्रकाश निरंजन]नई दिल्ली, 03 May 2019

पिछले लोकसभा चुनाव में यूपी में 55 मुस्लिम उम्मीदवार खड़े थे लेकिन जीता कोई नहीं. जबकि 80 सीटों वाली यूपी में 35 सीटों पर मुस्लिम वोट निर्णायक है. बीजेपी की जीत ने धर्मनिरपेक्षता का नाटक करने वाली पार्टियों के सामने ये साबित कर दिया कि मुस्लिम वोट के बगैर भी चुनाव जीते जा सकते हैं, तो अब मुसलमान के मन में क्या है? इस पूरे चुनाव में हिंदू-मुसलमान की हवा में असल मुद्दे लगभग उड़ चुके हैं.
चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर


In the last Lok Sabha elections, 55 Muslim candidates faught from UP but none of them won. While out of 80 seats in Uttar Pradesh, Muslim votes are king maker on 35 seats. victory of BJP proved that the parties pretending to be secular, that without the Muslim vote elections can be won. So now what is in the mind of the Muslims? In this entire election of 2019, the real issues have almost flown in the Hindu-Muslim wave.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay