एडवांस्ड सर्च

Advertisement

वारदात: जानें उन्नाव रेप कांड का पूरा सच!

aajtak.inनई दिल्ली, 04 August 2019

वारदात में आज बात करेंगे उन्नाव रेप कांड के बारे में जो कि साजिशों के हादसों में लिपटी हुई कहानी है. 4 जून 2017 की तारीख. पीड़ित लड़की उन्नाव के माखी पुलिस स्टेशन में पहुंचती है. इस इलज़ाम के साथ कि वो अपने एक रिश्तेदार के साथ बीजेपी के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के घर रात करीब नौ बजे नौकरी मांगने गई थी. मगर विधायक ने अपने ही घर में उसकी अस्मत लूट ली. इधर लड़की इलज़ाम लगाती है और उसके एक हफ्ते के अंदर ही 11 जून को अचानक वो गायब हो जाती है. लड़की की मां 12 जून को फिर इसी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाती है. पर रिपोर्ट लिखाने के हफ्ते भर बाद ही 20 जून को औरैया के एक गांव से पुलिस पीड़ित लड़की को बरामद कर लेती है. जानें कैसे कुलदीप सिंह सेंगर ने अपनी ताकत के बूते पीड़ित परिवार को सबक सिखाने के चक्कर में सब कुछ बरबाद कर दिया. देखें ग्राउंड रिपोर्ट.

In Vardat, Shams Tahir Khan brings to you trhe ground report from Unnao. He will tell you the timeline of events in the sensational Unnao rape case in which the Supreme Court has directed the transfer of all five cases registered in connection with the incident from a court in Uttar Pradesh to a court in the national capital. From a 17 year old girl accusing the then BJP MLA Kuldeep Singh Sengar of raping her to she battling for life in a hospital. Know from where it all started.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay