एडवांस्ड सर्च

Advertisement

वंदेमातरम: 1971 जंग- भारतीय जवानों के शौर्य की शानदार दास्तान

aajtak.in [Edited by: राहुल झारिया]नई दिल्ली, 16 December 2018

1971 जंग की वह जंग, जिसमें हिदुस्तान ने दुनिया का नक्शा बदल दिया था. उस दौरान भारत ने पाकिस्तान को महज 13 दिनों में घुटने टेकने को मजबूर कर दिया था और 93 हजार पाकी सैनिक लाचार युद्ध बंदी बना लिए गए थे. आज हम वंदेमातरम में उस जंग की कहानी सुना रहे हैं, जिसके हर एक पहलू में पाकिस्तान के लिए सबक है.

The Indo-Pakistani war of 1971 started on December 3 in the year 1971 and lasted for 13 days, after which, Pakistan surrendered to India and Bangladesh.The war started when Pakistan launched air strikes on 11 Indian airbases. Over 3,800 soldiers of India and Pakistan sacrificed their lives in this war to end the genocide Pakistan had been conducting against the Bengali population of East Pakistan.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay