एडवांस्ड सर्च

Advertisement

स्पेशल रिपोर्ट: 10% आरक्षण से मोदी जीतेंगे 2019 का रण?

aajtak.in [Edited By: परमीता शर्मा]नई दिल्ली, 08 January 2019

आरक्षण बिल पर चर्चा के दौर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि संविधान में 50 फीसदी आरक्षण का दायरा सामजिक तौर पर पिछड़े वर्गों के लिए लागू है, आर्थिक तौर पर पिछड़ों के लिए यह लागू नहीं है. उन्होंने कहा कि सामाजिक और आर्थिक तौर पर भेदभाव खत्म करने की कोशिश इस बिल के जरिए की जा रही है. उन्होंने कहा कि आज हर नागरिक को समान अवसर देने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि राज्यों ने भी आरक्षण देने की कोशिश की लेकिन वह सुप्रीम कोर्ट में जाकर रद्द हो गया. इसके लिए सही रास्ता नहीं अपनाया गया. उन्होंने कहा कि शिकायत करके बिल के समर्थन की जरूरत नहीं है अगर समर्थन करना ही हो तो खुले दिल से इस बिल का समर्थन करें. जेटली ने कहा कि आज कांग्रेस और उसके साथियों की परीक्षा है.

Finance Minister Arun Jaitley said in Lok Sabha that this reservation bill ensures sabka saath, sabka vikas. It is a move for equality, will enable social upliftment. Hitting out at allegations that the Bill is an election gimmick, Arun Jaitley said that you did not say give reservations to Patel before 2017/18, did you? The reason behind this Bill is because some classes have moved ahead while some have been left behind. If you are supporting this, dont be grudging it. Be whole-hearted.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay