एडवांस्ड सर्च

Advertisement

स्पेशल रिपोर्ट: राहुल के सवाल, सीतारमण के जवाब

aajtak.in [Edited By: अमित रायकवार]नई दिल्ली, 04 January 2019

लोकसभा में आज राफेल डील पर कांग्रेस और बीजेपी के बीच जमकर घमासान मचा.  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राफेल डील पर एक बार फिर पांच सवालों की तोप दागी.  इन सभी सवालों का जवाब दिया रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने.  उन्होंने विमानों की संख्या के बारे में वास्तविक स्थिति बताई और कीमत के बारे में खुलासा किया.  निर्मला ने कहा, इन्होंने (यूपीए सरकार ने) जब डील की थी, तब 18 विमान तैयार हालत में मिलने थे. बाकी 108 विमान 11 साल की अवधि में बनाए जाने थे. 2006 के बाद 2014 तक आप 18 जहाज भी हासिल नहीं कर सके? हमने डील में फ्लाईअवे विमानों की संख्या कम नहीं की. इसकी संख्या 18 से बढ़ाकर 36 की. हमें इस साल सितंबर में पहला और 2022 तक आखिरी राफेल मिल जाएगा. यूपीए के वक्त एक बेसिक राफेल की कीमत 737 करोड़ थी. हमें यह 9% कम रेट पर 670 करोड़ रुपए में मिलेगा. सेब की तुलना संतरे से ना करें.

A fiercely debate between the BJP and the Congress took place in Lok Sabha, today. Once again, Congress president Rahul Gandhi has shot 5 questions for PM Modi over the Rafale deal. Defence Minister Nirmala Sitharaman answered all the questions asked by Rahul Gandhi. She revealed the cost of the aircrafts. Nirmala Sitharaman said that, when UPA government had done the deal, then we were supposed to get 18 complete aircrafts and rest 108 aircrafts were supposed to be made in the span of 11 years. While commenting on the Congress she said that, why Congress fail to receive, even 18 aircrafts in year 2014. We have not decreased the numbers of flyaway aircraft in the deal. In fact we have increased the number from 18 to 36. We will get the first rafale in September 2019 and we will get last Rafale by the year 2022.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay