एडवांस्ड सर्च

Advertisement

सो सॉरी: दीदी का दर्द न जाने कोय

aajtak.in [Edited By: राहुल झारिया]नई दिल्‍ली, 21 June 2019

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी अपनी जमीन को और मजबूत करने में लगी हुई है. वहीं, तृणमूल कांग्रेस के नेताओं का पलायन रुकने का नाम नहीं ले रहा है. लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद लगभग एक महीना गुजर चुका है और ममता की पार्टी नेता लगातार पार्टी का दामन छोड़कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थामते नजर आ रहे हैं. अब सवाल है कि ऐसे में दीदी का दर्द कौन जानेगा?

Bhartiya janta Party is making full efforts to prepare strong political ground in West Bengal. On the other hand, Trinmool Congress leaders have been contentiously leaving party and joining Bhartiya Janta Party. Just after recent Los Sabha elections, lots of TMC Councillors and another left the party. Watch what is the the pain of Mamta Banerjee in the hilarious episode of So Shayari.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay