एडवांस्ड सर्च

Advertisement

PCR: 13 दिन बाद सामने आई मर्डर की खौफनाक कहानी

aajtak.in [Edited By: रणव‍िजय सिंह]नई दिल्ली, 16 December 2017

अपने गुनाह के निशान छिपाने के लिए उसने दो-दो बार कारों का बदला. लाश को एक कार से दूसरी कार में ट्रांस्फर किया. मसूरी से दिल्ली लौटने के बाद उसने दोनों कारों की ड्राईक्लीनिंग कराई. यहां तक कि सुबूत मिटाने के लिए डबलबैड को पेंट तक करा दिया ताकि खून के निशान न दिखें, लेकिन कोई बेजुबान था जो उसे देख रहा था और जब उसकी गवाही सामने आई तो पूरी वारदात से 13 दिन बाद पर्दा उठ गया.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay