एडवांस्ड सर्च

Advertisement

खबरदार: क्या संसद में चलते- चलते हुई बात को 'मीटिंग' मान लें?

aajtak [Edited By: परमीता शर्मा]नई दिल्ली, 12 September 2018

विजय माल्या ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर बड़ा बयान दिया है. माल्या ने दावा किया कि उसने लंदन जाने से पहले वित्त मंत्री से संसद में बात की थी और बैंकों से सेटलमेंट करने के ऑफर के बारे में भी बताया था. विजय माल्या की यही बात लेकर कांग्रेस उड़ गई कि विदाई देकर माल्या को भगाया गया, लेकिन क्या विजय माल्या की बात पर भरोसा किया जा सकता है? या फिर भरोसा कर भी लें तो क्या संसद के अंदर घूमते- फिरते किसी को कुछ कह देना जिसका जिक्र अरुण जेटली अपनी सफाई में भी कर रहे हैं. तो वो इस बात को मानने के काबिल है कि माल्या सब बताकर लंदन गया और ना सिर्फ लंदन गया बल्कि वापस ना आने की बातें करने लगा, जिसके लिए भारत सरकार को प्रत्यर्पण के लिए पूरा जोर लगाना पड़ा. देखें- ये पूरा वीडियो.

Khabardar: Can Vijay Mallya be trusted?

See this video


Vijay Mallya has made a big statement on Finance Minister Arun Jaitley. Mallya claimed that he had talked to the finance minister in parliament before going to London and told about the settlement offer from the banks. Now Congress says that bjp gave farewell to Vijay Mallya, but can Vijay Mallya be trusted?

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay