एडवांस्ड सर्च

Advertisement

ख़बरदार: अली ना बजरंगबली, EC है चुनाव का बाहुबली

मीनाक्षी कंडवाल [Edited By: स्वयं प्रकाश निरंजन]नई दिल्ली, 15 April 2019

चुनाव आयोग ने सोमवार को मायावती और योगी आदित्यनाथ पर एक्शन लिया. इतना ही नहीं मेनका गांधी और आज़म खान पर भी आयोग ने एक्शन लिया. मेनका गांधी ने तो करीब करीब वैसी ही ध्रुवीकरण वाली बात की थी जो मायावती और योगी आदित्यनाथ ने की थी, लेकिन आज़म खान का मामला अलग है. उन्होंने रामपुर में अपनी विरोधी उम्मीदवार जया प्रदा के बारे में ऐसी बातें कही थीं जिसे कोई गली-मोहल्ले वाला नेता भी किसी महिला के लिए नहीं कहता है. इसको लेकर आज़म खान का इतिहास भी रहा है. ज़्यादातर लोग यही कह रहे थे कि आज़म खान पर कड़ा एक्शन होना चाहिए, लेकिन अफसोस की बात ये रही कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के लिए आज़म खान आदरणीय ही हैं.
चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

Election Commission imposed a ban on Yogi Adityanath and Mayawati for election campaigning just before the second phase of Lok sabha elections. EC has put the ban for two days on Mayawati and three days ban on Yogi Adityanath. Meanwhile Police have lodged an FIR against SP leader Azam Khan for his objectionable comment against actor-turned politician Jaya Prada.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay