एडवांस्ड सर्च

Advertisement

कहानी: आजादी के 72 साल, सवा अरब लोगों को एक सुर में बांधते आए ये गाने

कहानी: आजादी के 72 साल, सवा अरब लोगों को एक सुर में बांधते आए ये गाने
aajtak.inनई दिल्ली, 16 August 2019

सिनेमा के परदे पर 70 साल के हिंदुस्तान के ये गीत, जैसे वक्त के साथ बदलते देश को अपने सुरों में साक्षात करते हैं. उसकी गंगा-जमुनी रूह को जैसे किसी सुनहरी तस्वीर में उतारते हैं और इस तरह ये गीत हिंदुस्तान की तारीख का मधुर गान बन जाते हैं. अपने बहुरंगी खाके में आजादी से लेकर आज के आधुनिक भारत को सतरंगे सपनों की तरह सजाते हैं. भारत हमको जान से प्यारा है, इस पर आतंकवाद, जंग और तिरंगे को सैल्यूट वाले कहने को ये गीत बेशक फिल्मी कहानियों के खाके में बुने-गुंथे जाते हैं. मगर अपने बोलों में अपने दौर की मुश्किलों को संबोधित करते हैं. वीडियो देखें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay