एडवांस्ड सर्च

Advertisement

हल्‍ला बोल: मासूमों की मौत पर सरकार लाजवाब, नेता प्रतिपक्ष लापता!

aajtak.in [Edited By: राहुल झारिया]नई दिल्‍ली, 22 June 2019

मुजफ्फरपुर से बुरी खबरें पल-पल मौत के बढ़ते आंकडे में तब्दील हो रही है. श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज के पीछे कई नरकंकाल मिले हैं. कहा जा रहा है कि ये कंकाल उन्हीं बदनसीब बच्चों के हैं जिन्होंने चमकी बुखार की चपेट में दम तोड़ दिया और जिनका अस्पताल प्रशासन ने जैसे-तैसे अंतिम संस्कार कर दिया? सवाल पूछो तो सीएम नीतीश कुमार भड़क जाते हैं. नेता विपक्ष को ढूंढने वाले पर ईनाम रखा गया है. वहीं मासूमों की मौत का आंकड़ा 150 छूने को है, लेकिन वह मदद नहीं पहुंची जो जिंदगी की सांसें दे सके. आज कन्हैया कुमार पहुंचे. इससे पहले भी कई नेता-अभिनेता आए, लेकिन अपने साथ क्या लेकर आए?

Acute Encephalitis syndrome is still not under control in Bihar. As per reports, more than 140 children have lost their lives in June and over 600 others are reported suffering. Deformed human bones and broken skull were found by some people behind Sri Krishna Medical College and Hospital (SKMCH) premises in Muzaffarpur. Chief Minister Nitish Kumar angrily evaded questions on deaths of children. Poster announcing a reward of Rs 5100 for the person who finds Rashtriya Janata Dal (RJD) leader Tejashwi Yadav, seen in Muzaffarpur. On the other hand, film star and politicians continuously reaching Muzaffarpur hospital to meet the ailing children who are suffering from encephalitis.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay