एडवांस्ड सर्च

Advertisement

10 तक: 'महाभारत' में तालियों से गालियों तक पहुंची चुनावी राजनीति

aajtak.in [Edited By: अजय भारतीय]नई दिल्ली, 09 May 2019

महाभारत के बारे में कहा जाता है कि वो हर दौर की कहानी है. कमोबेश वही कहानी आज इस लोकसभा चुनाव में दोहरायी जा रही है. सत्ता के लिए नैतिकता के मूल्य जानबूझकर तोड़े जा रहे हैं, तो भाषा की मर्यादा टूटती जा रही है. प्रधानमंत्री मोदी जब कुरुक्षेत्र में पहुंचे तो उन्होंने महाभारत के उस तपोभूमि से अपने ऊपर हुए हमलों का पूरा ब्योरा दिया. लेकिन जिस तरह महाभारत में कायदे कानून दोनों पक्षों ने तोड़ा, यहां भी हर सियासी दल अपने सवालों के दलदल में फंसा हुआ है. वीडियो देखें.

It is said about Mahabharata that it is the story of every time. More or less the same story is being repeated today in this Lok Sabha election. If the value of ethics is being intentionally breaking up for power, then the bounds of language are getting tangled. When Prime Minister Modi arrived in Kurukshetra, he gave a complete account of his attacks. Watch the video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay