एडवांस्ड सर्च

Advertisement

दंगल: कश्मीर में इस बार बिना बंदूकों के साये में मन सकेगी ईद?

aajtak.inनई दिल्ली, 09 August 2019

कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद आज पहला शुक्रवार था. सुरक्षा तो कड़ी रही, लेकिन इस सुरक्षा के बीच लोगों ने अपने अपने इलाकों की मस्जिदों में नमाज अता की. कहीं से कोई अप्रिय घटना की खबर नहीं है. बताया जा रहा है कि गड़बड़ी फैलाने वाले लोगों पर बेहद सख्ती बरती जा रही है, और वो हिरासत में हैं. हालांकि इस सुरक्षा का असर 12 अगस्त को पड़ने वाली ईद की तैयारियों पर जरूर पड़ा है, बाजारों में हर साल की तरह रौनक नहीं है. इसीलिए आज हम दंगल में पूछेंगे कि सुरक्षा को चाक-चौबंद रखते हुए भी क्या सरकार आम लोगों के लिए ये माहौल बना सकेगी कि बिना बंदूकों के साये में वो अपनी ईद मना सकें?

Today was the first Friday after the removal of Article 370 in Kashmir. Security was tight, but amidst this security, people offered prayers in the mosques of their respective areas. There is no untoward incident reported anywhere. It is being told that the people who spread the disturbances are being extremely strict, and they are in custody. Although this security has definitely affected the preparations for Eid on August 12, the markets are not as exciting as every year.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay