एडवांस्ड सर्च

Advertisement

चाल चक्र: योग की समझिए सही परिभाषा

तेज ब्यूरो [Edited By: अमित रायकवार]नई दिल्ली, 20 June 2019

चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे योग कैसे आपको निरोग कर सकेगा.  योग की बहुत सारी परिभाषाएं दी गई हैं. परन्तु इसमें महर्षि पातंजलि की परिभाषा सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. महर्षि पातंजलि ने चित्त वृतियों के नियंत्रण को योग कहा है. उन्होंने योग के आठ अंग बताएं हैं.  यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि. इन आठों अंगों को सम्पूर्ण रूप से योग कहा जाता है. आसन या योगासन मात्र योग का एक अंश है. आसन, सम्पूर्ण योग नहीं है.

Today in Chaal Chakra in we will tell you that how yoga can keep you away from the diseases. Many definitions have been given fro the yoga but the definition what Maharishi Patanjali gave, is most important. What does the definition of Maharishi Patanjali tells us, watch Chaal Chakra.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay