एडवांस्ड सर्च

Advertisement

चाल चक्र: भारतीय वास्तुशास्त्र और फेंगशुई में मुख्य रूप से क्या अंतर है?

चाल चक्र: भारतीय वास्तुशास्त्र और फेंगशुई में मुख्य रूप से क्या अंतर है?
तेज ब्यूरोनई दिल्ली, 04 November 2019

चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे भारतीय वास्तुशास्त्र और फेंगशुई में मुख्य रूप से अंतर के बारे में. फेंगशुई को चीनी वास्तुशास्त्र कहा जा सकता है. इसमें मुख्य रूप से सकारात्मक ऊर्जा "ची" पर जोर दिया जाता है.  इसके अलावा इसमें चुंबकीय ऊर्जा का प्रयोग भी किया जाता है जिसे "यिन तथा यांग" कहा जाता है. फेंगशुई ऊर्जा को नियंत्रित करने के सिद्धांत पर काम करती है. इसमें बहुत सारी चीज़ों का प्रयोग करके ऊर्जा को ठीक किया जाता है जैसे - ड्रैगन , फीनिक्स , टर्टल, लाफिंग बुद्धा आदि. इसका विस्तार अब केवल चीन तक सीमित नहीं है, यह अमेरिका और एशिया में तेजी से फैलता जा रहा है. 

In this episode of Chaal Chakra, we will tell you the main difference between Indian Vastu-Shastra and Feng shui. Feng shui is known as the Chinese geomancy. Feng shui works on the principle of controlling energy. Also, we will tell you your daily horoscope.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay