एडवांस्ड सर्च

Advertisement

एस्ट्रो अंकल: मां कात्यायिनी के रूप की महिमा क्या है

एस्ट्रो अंकल: मां कात्यायिनी के रूप की महिमा क्या है
तेज ब्यूरोनई दिल्ली, 04 October 2019

एस्ट्रो अंकल आज आपको बताएंगे मां कात्यायिनी के रूप की महिमा के बारे में. नवदुर्गा के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा की जाती है.  मां कात्यायनी का जन्म कात्यायन ऋषि के घर हुआ था इसीलिए इनको कात्यायनी कहा जाता है. देवी कात्यायिनी की चार भुजाओं में अस्त्र शस्त्र और कमल का पुष्प है और इनका वाहन सिंह है. देवी कात्यायनी ब्रजमंडल की अधिष्ठात्री देवी हैं, गोपियों ने कृष्ण की प्राप्ति के लिए इनकी पूजा की थी. विवाह संबंधी मामलों के लिए इनकी पूजा अचूक होती है और योग्य और मनचाहा पति इनकी कृपा से प्राप्त होता है. ज्योतिष में बृहस्पति का संबंध इनसे माना जाता है.

Astro Uncle today will tell you about the mercy of Maa Katyayni. Goddess Katyayni is the sixth form of navdurga that is why Maa Katyayni is being worshiped on sixth day of navratri. Today in Astro Uncle you will get to know all about Maa Katyayni and your hororscope as well. Watch Astro Uncle.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay