एडवांस्ड सर्च

Advertisement

मैं भाग्य हूं: अपने कर्मों से महान बनता है इंसान

मैं भाग्य हूं: अपने कर्मों से महान बनता है इंसान
तेज ब्यूरोनई दिल्ली, 09 November 2019

इंसान जन्म से नहीं कर्मों से महान बनता है. जन्म के समय इंसान एक कोरे कागज की तरह होता है, लेकिन बाद में उस पर समाज और परिवार के माध्यम से जैसी लकीरें खींची जाती हैं, उसके अनुसार ही वो ढलता जाता है. ये बात एक कहानी के माध्यम से समझाने से पहले जानिए पहली चार राशियों का हाल.

To understand the message of our program Main Bhagya Hoon, you have to listen a story. Also know the horoscope of your zodiac sign.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay