एडवांस्ड सर्च

Advertisement

मैं भाग्य हूं: कर्म से बलवान होता है भाग्य

तेज ब्यूरोनई दिल्ली, 08 August 2019

मैं भाग्य हूं... आप मुझे अपना मुकद्दर मानिए या ईश्वर का लिखा लेकिन मैं तो आपका ही रचा हूं. मैं आपके विचारों का आईना हूं. मैं हर रोज आपको जीवन की सही राह दिखाता हूं. जीवन के प्रत्येक सपने को साकार करने के लिए रास्ता दिखाता हूं. आज इसी क्रम में. मैं आपको दिखाऊंगा कैसे सही और अच्छी संगति और अच्छे विचार इंसान की प्रगति का द्वार खोल देते हैं. संगति इंसान के जीवन में बहुत महत्व रखती है. अगर आप बुरी संगति में हैं और आप कितने भी बुद्धिमान क्यों न हो लेकिन जीवन में कभी आगे नहीं बढ़ पाएंगे.

We should always be in the company of wise friends and you will become wise yourself, but if you keep yourself in the company of wrong friends, its bad for you. There can be many reasons to prove the fact that why you should choose the company of good friends. Wacth a story on this topic in Main Hoon Bhagya video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay