एडवांस्ड सर्च

Advertisement

मैं भाग्य हूं: रंग-रूप से नहीं कर्मों की संतुष्टि से मिलती है सफलता

मैं भाग्य हूं: रंग-रूप से नहीं कर्मों की संतुष्टि से मिलती है सफलता
aajtak.in [Edited By: सना जैदी]नई दिल्ली, 22 June 2019

व्यक्ति की सफलता उसके रंग-रूप पर आधारित नहीं होती बल्कि इंसान के कर्मों पर उसका भाग्य निर्भर करता है. व्यक्ति का व्यवहार ही जीवन का निर्माण करता है, व्यक्ति संतुष्ट होता है तो खुश रहता है. वहीं असंतुष्टि से इंसान हमेशा दुखी रहता है. इसलिए सफल जीवन जीने के लिए इंसान को अपने गुणों और शक्तियों पर ध्यान देना चाहिए. देखिए कर्मों से जुड़ी दिलचस्प कहानी और साथ ही जानिए अपना राशिफल.

The success and the happiness of a person is not based on its physical beauty. Humans fate depends on their deeds or karma. The good behavior helpes to build good personality and the work satisfication makes a man happy. Satisfication helpes to get successful in life. Watch this interesting story related to karma and know your horoscope.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay