एडवांस्ड सर्च

Advertisement

पालघर केस: वकील की मौत पर बीजेपी को शक! वीएचपी ने भी दी चेतावनी

पालघर केस: वकील की मौत पर बीजेपी को शक! वीएचपी ने भी दी चेतावनी
aajtak.inनई दिल्ली, 15 May 2020

पालघर में साधुओं की मॉब लिंचिंग का केस लड़ रहे वकील के सहायक की सड़क हादसे में मौत हो गई है. इसके बाद एक बार फिर पालघर को लेकर सियासत तेज हो गई हैं क्योंकि बीजेपी ने सवाल पूछा है कि क्या ये सिर्फ एक संयोग है. पालघर में जिन साधुओं की मॉब लिंचिग ने पूरे देश को झकझोर दिया था, उस पालघर में इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे वकील दिग्विजय त्रिवेदी की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि साधु मॉब लीचिंग हत्याकांड मामले में संतो की तरफ से केस लड़ रहे दिग्विजय रोज की तरह कोर्ट गाड़ी से रवाना हुए, जहां मुंबई अहमदाबाद हाईवे पर कार ने नियंत्रण खो दिया और वो डिवाइडर से जा टकराई. इस सड़कल दुर्घटना में दिग्विजय त्रिवेदी की मौत हो गई, जबकि महिला वकील घायल है. जिस समय यह हादसा हुआ, उस समय दिग्विजय ही गाड़ी चला रहे थे. जिस तरह से पालघर मॉब लिंचिंग को लेकर सियासत हुई उसके बाद वकील की मौत ने कई सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं. बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी अचानक हुई इस मौत को लेकर साजिश की आशंका जताई है.

On Wednesday morning, advocate Digvijay Trivedi who was a part of the legal team representing the deceased ascetics in the Palghar mob lynching case passed away in a car accident. He was travelling with a female colleague to the Dahanu court. At around 10.30 am on the Mumbai-Ahmedabad national highway, Trivedi was killed on the spot when his car turned turtle.Reacting to this development, BJP and VHP has demanded investigation in the case. Watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay