एडवांस्ड सर्च

Advertisement

साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे

aajtak.in
06 November 2019
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
1/7
गुजरात में नर्मदा नदी के तट पर बनी सरदार वल्लभ भाई पटेल की मुर्ति को बने अभी 1 साल से थोड़ा समय हुआ है. वहीं इतने कम समय में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी ने कमाई के मामले में ताजमहल को पीछे छोड़ दिया है.
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
2/7
भारतीय पुरातात्विक सर्वेक्षण (ASI)  की रिपोर्ट के अनुसार 182 मीटर के स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर्यटकों के बीच पॉपुलर हो रहे हैं. पर्यटकों की संख्या बढ़ने के कारण कमाई में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी , प्यार की निशानी कहे जाने वाले ताजमहल से आगे है.
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
3/7
जहां ताजमहल की सालाना कमाई 56 करोड़ रुपये है वहीं स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की सालाना कमाई 75 करोड़ रुपये है.
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
4/7
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर्यटकों की संख्या ताजमहल में आने वाले पर्यटकों की संख्या से कम है. पिछले एक साल में 27.95 लाख लोगों ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी  को विजिट किया है.
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
5/7
वहीं रिपोर्ट की माने तो हर इस स्टैच्यू के मेंटेनेंस में भी काफी खर्चा है. रिपोर्ट्स के अनुसार स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के रख-रखाव में हर रोज 12 लाख रुपये खर्च होते हैं.
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
6/7
बता दें कि 182 मीटर ऊंची सरदार वल्लभभाई पटेल की इस स्टैच्यू का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर को अनावरण किया था.
साल में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की इतनी होती है कमाई, ताज भी पीछे
7/7
इसे बनाने में भी करीब 3000 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. वहीं मूर्ति में लिफ्ट लगी है, जो ऊपर गैलरी तक जाती है और वहां से बांध का व्यू मिलता है.
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay