एडवांस्ड सर्च

Advertisement

9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन

aajtak.in [Edited By: मोहित पारीक]
15 July 2018
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
1/9
जियो इंस्टीट्यूट इन दिनों चर्चा में है. दरअसल प्रस्तावित जियो इंस्टीट्यूट को सरकार की ओर से 'विशेष दर्जा' दिए जाने के बाद से हंगामा मचा हुआ है. यह संस्थान भले ही अस्तित्व में ना हो, लेकिन इसकी चर्चा अभी से होने लगी है. आइए जानते हैं कैसा होगा रिलायंस फाउंडेशन का जियो इंस्टीट्यूट.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
2/9
इकोनॉमिक्स टाइम्स के अनुसार, खुद मुकेश अंबानी उस टीम का नेतृत्व कर रहे हैं, जिसने जियो इंस्टीट्यूट को आईओई का दर्जा दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. इस टीम का अहम हिस्सा थे विनय शील ओबेरॉय.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
3/9
विनय शील ओबेरॉय मानव संसाधन विकास मंत्रालय में उच्च शिक्षा सचिव के पद पर रह चुके हैं और रिटायर होने के बाद ओबेरॉय रिलायंस से जुड़े थे. जियो के इस अहम प्रोजेक्ट के पीछे ओबेरॉय की अहम भूमिका है.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
4/9
रिपोर्ट के अनुसार ओबरॉय के नेतृत्व में 8 सदस्यों की एक टीम पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एन गोपालस्वामी की अध्यक्षता वाली एंपावर्ड एक्सपर्ट कमिटी के सामने प्रजेंटेशन आई थी. वहीं जब वर्ल्ड क्लास इंस्टीट्यूट्स या इंस्टीट्यूट्स ऑफ एमिनेंस की स्कीम की घोषणा केंद्रीय बजट में की गई थी तब ओबेरॉय खुद एचआरडी मिनिस्ट्री में कार्यरत थे.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
5/9
ओबेरॉय 1979 बैच के आईएएस ऑफिसर ओबरॉय ने मार्च 2018 के बाद रिलायंस जॉइन किया था. ओबेरॉय को लेकर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं कि उन्होंने आईएएस के पद से रिटायर होने के एक साल बाद ही कोई संस्थान जॉइन कैसे किया.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
6/9
रिपोर्ट के अनुसार यह अंबानी के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है. इस यूनिवर्सिटी का प्लान साल 2016 में सामने लाया गया था. साथ ही वरिष्ठ वैज्ञानिक आर ए माशेलकर को रिलायंस फाउंडेशन के आगामी Jio इंस्टीट्यूट का चासंलर बनाने की भी खबरें आ रही हैं.

9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
7/9
कई रिपोर्ट्स में सामने आया है कि रिलायंस इस प्रोजेक्ट पर करीब 9500 करोड़ रुपये खर्च करेगा. साथ ही यह संस्थान महाराष्ट्र के मुंबई में बनाया जाएगा.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
8/9
जियो की ओर से दिए गए प्लान में कहा गया था कि पहले साल में सभी दस्तावेजों के काम कर लिए जाएंगे और 800 एकड़ भूमि पर काम शुरू हो जाएगा. दूसरे साल में एडमिशन की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी. तीसरे साल में पहले बैच शुरू कर दिया जाएगा और अगले 6 सालों में करीब 10 स्कूल होंगे.
9500 करोड़ के खर्च से बनेगा जियो इंस्टीट्यूट, इस IAS की है देन
9/9
अगले 10 साल में यह टॉप 100 यंग यूनिवर्सिटी में से एक होगी और अगले 13 साल में टॉप 500 ग्लोबल रैंकिंग में इसका नाम होगा.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay