एडवांस्ड सर्च

Advertisement

हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या

aajtak.in [Edited by: प्रियंका शर्मा]
12 September 2018
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
1/10
सुसाइड यानी आत्महत्या को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है जिसमें बताया गया है कि हर साल दुनिया भर में 8 लाख लोग आत्महत्या करते हैं. वहीं हर 40 सेकंड में एक व्यक्ति अपनी जान देता है. बता दें, दुनिया के करीब 38 देशों ने आत्मत्या जैसे अपराध रोकने की रणनीति बनाई गईहै. रिपोर्ट में बताया गया जिनकी उम्र 15 से 29 साल के बीच है. वह ज्यादा आत्महत्या के शिकार होते हैं.



हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
2/10
साल 2016 में जारी हुई WHO की रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया भर में 79 प्रतिशत आत्महत्या करने वालों में ज्यादातर ऐसे लोग शामिल थे, जो निम्न और मध्यम आय वाले देश से संबंध रखते थे. मतलब विकसित देशों की तुलना में विकासशील देशों के लोग सबसे ज्यादा आत्महत्या कर रहे हैं.
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
3/10
साल में 2016 आत्महत्या करने वाले छात्रों में 25 फीसदी यानी की 2413 छात्र ऐसे हैं जिन्होंने परीक्षा में असफल होने पर खुद को खत्म कर लिया.

हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
4/10
नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) ने साल 2015 में एक डेटा जारी किया जिसमें बताया गया कि देश में हर घंटे एक छात्र मौत को लगा रहा गले लगा लेता है.


हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
5/10
आत्महत्या करने के तरीके के बारे में भी बताया गया है जिसमें 20 प्रतिशत लोग जहर खाकर अपना जीवन खत्म कर देते हैं. बाकी लोग फंदे से लटककर या फिर खुद जलाकर आत्महत्या कर लेते हैं.
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
6/10
वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू (WPR) के अनुसार बताया गया है कि किस देश में आत्महत्या की दर सबसे ज्यादा है.
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
7/10
आत्महत्या वैश्विक स्तर पर मौत का 15वां प्रमुख कारण है.
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
8/10
श्रीलंका, पूर्वी एशिया में दक्षिण कोरिया, पूर्वी यूरोपीय देश, लिथुआनिया, बेलारूस, पोलैंड और लातविया समेत कई अन्य पूर्वी यूरोपीय देशों में  आत्महत्या कि उच्च दरें हैं. वहीं अफगानिस्तान में आत्महत्या की दर 5.5 हैं, इराक में तीन और सीरिया के पास सिर्फ 2.7 है.  .
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
9/10
बहामा, जमैका, ग्रेनेडा, बारबाडोस, एंटीगुआ और बारबूडा के कैरेबियन द्वीप समूह सबसे कम आत्महत्या दरों वाले देश हैं. इन देशों में से आत्महत्या दर  काफी कम है. ग्रेनेडा और बारबाडोस आत्महत्या की दर 0.5 और 0.4 है
हर साल 8 लाख और 40 सेकंड में 1 इंसान करता है आत्महत्या
10/10
 बता दें,  भारत में आत्महत्याओं के मामलों में पहला स्थान महाराष्ट्र का है. महाराष्ट्र के बाद तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay