एडवांस्ड सर्च

Advertisement

इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम

aajtak.in
11 November 2019
इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
1/9
देशभर में आज 11 नवंबर 'राष्ट्रीय शिक्षा दिवस' के रूप में मनाया जा रहा है. ये दिन भारत के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद के जन्मदिवस पर मनाया जाता है. आजादी के बाद से अब तक भारत में शिक्षा के स्तर में कई सुधार हुए हैं. ऐसे में जानते हैं भारत के उस व्यक्ति के बारे में जो सबसे ज्यादा पढ़े- लिखे माने जाते हैं.
इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
2/9
भारत के सबसे ज्यादा पढ़ें- लिखे व्यक्ति का नाम श्रीकांत जिचकर हैं. उनके पास 20 से डिग्रियां थीं.
इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
3/9
श्रीकांत जिचकर का जन्म 14 सितंबर, 1954 को कटोल, नागपुर जिले में एक किसान परिवार में हुआ था. बता दें, उनका निधन 2 जून 2004 में हुआ था.


इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
4/9
डिग्रियों की बात करें तो श्रीकांत जिचकर ने कई विषयों में MA (मास्टर्स) किया था. उन्होंने पत्रकारिता के साथ MBA और बिजनेस स्टडी में डिप्लोमा किया था. इसके उन्होंने D.Litt और इंटरनेशनल लॉ में पोस्ट ग्रेजुएशन किया था. डॉक्टर वो Phd के बूते नहीं बल्कि MBBS और MD करने के कारण कहलाते थे.


इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
5/9
श्रीकांत इतने प्रतिभाशाली थे कि वह 1978 में IPS और 1980 IAS के लिए भी चयनित हुए थे.

इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
6/9
1973 से 1990 में, श्रीकांत जिचकर ने 42 विश्वविद्यालय परीक्षाओं में भाग लिया और 20 में पास हुए थे. उन्होंने अपनी अधिकांश परीक्षाएं प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण कीं और कई स्वर्ण पदक भी जीते थे. लिम्‍का बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड्स के अनुसार वे भारत के सबसे ज्‍यादा क्‍वालीफाइड व्‍यक्ति हैं. 2 जून 2004 को 49 साल की उम्र में कार एक्सिडेंट में उनकी मौत हो गई.
इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
7/9
आपको बता दें, यूपीएससी की परीक्षा को पास कर उनके सेलेक्शन IPS के लिए हो गया था, लेकिन बाद में इस पद से इस्तीफा दे दिया और IAS की परीक्षा दी. जिसे भी उन्होंने क्लियर कर लिया था. लेकिन बाद में उन्हें कुछ और ही मंजूर था.  4 महीने बाद IAS पद से अपना पहला आम चुनाव लड़ने के लिए से इस्तीफा दे दिया था. बता दें, उन्होंने महाराष्ट्र से विधानसभा चुनाव लड़ा और अपनी पहली राजनीतिक जीत दर्ज की थी.

इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
8/9
 राजनीति में करियर

जब वह महाराष्ट्र विधानसभा के लिए चुने गए थे उनकी उम्र 25 साल की थी.  उन्होंने महाराष्ट्र विधानसभा (1982-85), महाराष्ट्र विधान परिषद (1986-92) के सदस्य के रूप में भी कार्य किया, और राज्य सरकार के मंत्रालय में भी कार्य किया. उन्हें राज्यसभा (1992-98) के सांसद के रूप में भी चुना गया था. एक समय में वह में 14 विभागों के साथ अपने समय के शक्तिशाली मंत्री भी थे. वह 25 साल की उम्र में MLA बन गए थे. इतनी डिग्रियों और शिक्षा से अंदाजा लगाया जा सकता है कि श्रीकांत का किताबों से कितना करीबी नाता रहा है. आपको जानकर हैरानी होगी कि  श्रीकांत की अपनी निजी लाइब्रेरी थी जिसमें 52 हजार से ज्यादा किताबें थीं.


इस शख्स के पास देश में सबसे ज्यादा डिग्रियां, लिम्‍का बुक में नाम
9/9

1 ये थीं उनकी उपलब्धियां


1. Medical Doctor, MBBS and MD

2. Law, LL.B

3. M.A. Public Administration

4. M.A. Sociology

5. M.A. Economics

6. M.A. Sanskrit

7. M.A. History

8 M.A. English Literature

9. M.A. Philosophy

10. M.A. Political Science

11. M.A. Ancient Indian History, Culture and Archaeology

12. M.A Psychology

13. International Law, LL.M

14. Masters in Business Administration, DBM and MBA

15. Bachelors in Journalism

16. D. Litt. Sanskrit

17. IPS

18. IAS

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay