एडवांस्ड सर्च

Advertisement

परिवार को है मेरी जरूरत: कर्स्टन । मत जाओ गैरी!

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर गैरी कर्स्टन ने उन भारतीय खिलाड़ियों की भावनाओं की सराहना की जो उन्हें क्रिकेट विश्व कप के बाद भी टीम इंडिया का कोच बने देखना चाहते हैं. कर्स्टन ने हालांकि परिवार के लिए उनकी प्रतिबद्धताओं का हवाला देकर कोच बने रहने से इंकार कर दिया.
परिवार को है मेरी जरूरत: कर्स्टन । <a style='COLOR: #d71920' href='http://is.gd/jqWWt0' target='_blank'> मत जाओ गैरी!</a> गैरी कर्स्टन
भाषानई दिल्ली, 05 April 2011

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर गैरी कर्स्टन ने उन भारतीय खिलाड़ियों की भावनाओं की सराहना की जो उन्हें क्रिकेट विश्व कप के बाद भी टीम इंडिया का कोच बने देखना चाहते हैं. कर्स्टन ने हालांकि परिवार के लिए उनकी प्रतिबद्धताओं का हवाला देकर कोच बने रहने से इंकार कर दिया.

सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह जैसे सीनियर भारतीय बल्लेबाज चाहते हैं कि कर्स्टन भारतीय टीम के कोच बने रहें. इन खिलाड़ियों का कहना है कि टीम की सफलता में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर का अहम योगदान है और टीम उनकी कमी महसूस करेगी.

कर्स्टन ने हालांकि कहा कि कोच बने रहना संभव नहीं होगा क्योंकि उन्हें अपने परिवार के साथ समय बिताना है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay