एडवांस्ड सर्च

ममता बनर्जी के कम्युनिस्ट दोस्त

ममता बनर्जी ने फूट डालो और शासन करो की नीति पर चलने की ठान ली है. जहां सीपीएम के खिलाफ  उनका विषवमन जारी है, वहीं सीपीआइ को वे दोस्ताना संदेश भेज रही हैं.

Advertisement
प्रिया सहगलनई दिल्‍ली, 26 November 2012
ममता बनर्जी के कम्युनिस्ट दोस्त ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने फूट डालो और शासन करो की नीति पर चलने की ठान ली है. जहां सीपीएम के खिलाफ  उनका विषवमन जारी है, वहीं सीपीआइ को वे दोस्ताना संदेश भेज रही हैं.

3 नवंबर को सीपीआइ नेता गुरुदास दासगुप्ता को अपने 76वें जन्मदिन पर उनका शुभकामना पत्र पाकर आश्चर्य भरी खुशी हुई. पत्र की शुरुआत ''प्रिय गुरुदास दा” संबोधन के साथ हुई थी. ममता जब चाहें, अपना जादू चला सकती हैं. किसी कम्युनिस्ट पर भी.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay