एडवांस्ड सर्च

विराट कोहली: टीम इंडिया का नया उस्ताद

जीत के लिए हर नुस्खा आजमाने और चुनौती से जूझने को तैयार कप्तान की अगुआई में भारतीय खिलाडिय़ों को अपना दमखम मिला, टीम फिर बुलंदी की ओर.

Advertisement
विक्रांत गुप्ता 07 September 2015
विराट कोहली: टीम इंडिया का नया उस्ताद कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट शृंखला जीतने के बाद विराट कोहली

गाले का अनुभव विराट कोहली के लिए बहुत महत्वपूर्ण था. भारतीय टीम टेस्ट हार चुकी थी, हालांकि एक या दो सत्र को छोड़ दें तो इस मुकाबले में ज्यादातर समय तक भारत का ही पलड़ा भारी लग रहा था और एकतरफा जीत दिखाई दे रही थी. भारतीय ड्रेसिंग रूम में किसी मातम जैसी खामोशी थी. वे हाथ में आया टेस्ट गवां चुके थे, इसलिए साथी खिलाडिय़ों पर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे थे और टीम को अपनी श्रेष्ठता दिखाने के लिए ललकार रहे थे. अभी दो टेस्ट बाकी थे. कप्तान की चेतावनी थी, जीतकर दिखाओ, वरना मैं तुम्हारे लिए लड़ाई नहीं करूंगा. सभी खिलाड़ी कप्तान की ओर से लड़ो या मरो की चेतावनी को एकदम खामोशी से सुन रहे थे. किसी के मुंह से एक शब्द भी नहीं निकल रहा था.

भारतीय क्रिकेट के कप्तानों की पहली जीतअगली सुबह जब टीम की बस लाइटहाउस होटल से बाहर निकली और जब वे कोलंबो के ताज समुद्र होटल में पहुंचे, इस बीच तीन घंटे के सफर में कुछ खिलाडिय़ों ने कप्तान से अपने खेल के बारे में चर्चा की. उन्होंने कोहली को बताया कि इस हार से वे भी दुखी थे और अब वे पुरानी गलतियां नहीं करेंगे. कप्तान भले पहली मुठभेड़ में शिकस्त खा चुके थे, लेकिन उन्हें अंदाजा हो गया था कि वे जंग जीत सकते हैं. टीम के युवा लड़के अब जवां मर्द बन चुके थे.

अब कोलंबो के सिंहलीज स्पोट्र्स क्लब (एसएससी) के मैदान का दृश्य आता है. श्रीलंका के सबसे निस्तेज मैदान के ड्रेसिंग रूम के बाहर बॉलकनी में खड़े कोहली जंग की बारीकियों पर विचार कर रहे हैं, दूसरी तरफ टेस्ट में 117 रन से मिली जीत के बाद मुट्ठी भर भारतीय प्रशंसक तालियां बजाकर खिलाडिय़ों की तारीफ कर रहे हैं. 22 साल बाद भारतीय टीम ने श्रीलंका में सीरीज जीत ली है. कोहली ने अपनी शर्ट उतार ली और एक क्षण के लिए लगा कि वे भी उसी तरह अपनी शर्ट हवा में लहराएंगे, जिस तरह 2002 में लॉड्र्स में जीत के बाद सौरभ गांगुली ने अपनी शर्ट उतार कर हवा में लहराई थी. लेकिन कोहली ने खुद को रोक लिया और अपनी शर्ट व कुछ अन्य निशानियां नीचे खड़े भारतीय प्रशंसकों की तरफ उछाल दीं. टीम के खिलाडिय़ों ने जहां टीम के निदेशक रवि शास्त्री की ओर से होटल में दी गई एक पार्टी का आनंद लिया, कोहली ने फिर जोश भरने वाले अंदाज में कहा, ''जीत हासिल करना हमारी आदत होनी चाहिए. हमें फिर नंबर वन बनना है.''

नए रंग में ये खिलाड़ीयह अब कोहली युग की शुरुआत है, और यह शायद हाल के दिनों में भारतीय टीम के प्रदर्शनों से अलग होगी, जो विदेशी धरती पर टेस्ट मुकाबलों में शिकस्त का मुंह देखती रही है. श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में मिली जीत पिछले चार वर्षों में विदेशी मैदान पर टेस्ट सीरीज में मिलने वाली पहली जीत है. देखने वाली बात यह है कि इस जीत में गेंदबाजों की भूमिका प्रमुख रही है. तीन टेस्ट मैचों में, जिनमें श्रीलंका ने अपनी सभी छह पारियां खेली थीं, भारत ने उसके सभी 60 विकेट चटखा दिए. गाले में गेंदबाजी के बदलावों के अलावा, उन्होंने पिच और मैच के हालात को लगभग ठीक-ठीक समझ लिया था. तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने जिस तरह अपने कप्तान की योजना के अनुसार गेंदबाजी की, वह शायद भारत के लिए इस दौरे की सबसे बड़ी उपलब्धि है.

विराट कोहली साहसिक और आक्रामक बल्लेबाज हैं और उनके पास शानदार तकनीक के साथ किसी जुआरी जैसी सहज प्रवृत्ति है, वे अपने साथी खिलाडिय़ों को भी प्रेरित करते हैं. उनके कई खिलाड़ी अब भारतीय टीम की रीढ़ बन चुके हैं. अब एक नई भारतीय टीम खड़ी हो रही है, जिसमें नया आत्मविश्वास दिख रहा है. अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा, जिन्होंने एसएससी में जरूरत के समय नाबाद 145 रन बनाए थे, लगता है, मध्य क्रम में लंबे समय तक टीम की सेवा कर सकते हैं. मुरली विजय, शिखर धवन और के. राहुल सलामी बल्लेबाजी के लिए बारी-बारी से अच्छा विकल्प साबित हो रहे हैं. तेज गेंदबाजी के मामले में ईशांत व उमेश यादव सफल दावेदार बन गए हैं, जबकि आर. अश्विन अगली पंक्ति के फिरकी गेंदबाज बन गए हैं.

इस नई टोली को इस नई हकीकत से मदद मिल रही है कि लंबे समय बाद भारत को ऐसा कप्तान मिला है जो पांच गेंदबाजों को टीम में रखकर टेस्ट मैच जीतने का जोखिम उठाने को तैयार है. ड्रेसिंग रूम की जानकारी रखने वालों का कहना है कि कप्तान के भरोसे के कारण ही हरभजन सिंह और अमित मिश्र जैसे वरिष्ठ खिलाडिय़ों ने भी शानदार प्रदर्शन किया. गाले में हरभजन का प्रदर्शन भले प्रभावशाली न रहा हो लेकिन मिश्र ने फिरकी गेंदबाजी में बेहतरीन प्रदर्शन किया. हालांकि अश्विन ने श्रीलंका में 21 विकेट लेकर मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार जीत लिया लेकिन मिश्र ने भी 30 से कम गेंदों में औसतन 1 विकेट हासिल किया. मिश्र कहते हैं, ''कप्तान जब आपमें अपना भरोसा जताता है तो आपको ताकत मिलती है.''
लेकिन कोहली की सबसे बढिय़ा ताकत अगर कुछ है तो वह है उनका लचीलापन. गाले की हार में होने वाली गलतियों को उन्होंने तुरंत स्वीकार कर लिया था. हालांकि उनकी इस बात को लेकर कड़ी आलोचना हुई कि उन्होंने स्टुअर्ट बिन्नी को तुरंत भारत से बुलाया, लेकिन वे सही साबित हुए. रोहित शर्मा नंबर तीन के स्थान पर इतने अच्छे नहीं रहे हैं, जिससे उनकी जगह अजिंक्य रहाणे को लाया गया. लेकिन जब पुजारा ने आखिरी टेस्ट में मैच जिताने वाला शानदार शतक लगाया तो कोहली के बल्लेबाजी क्रम ने फिर से अपनी लय पकड़ ली. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चार टेस्ट मैचों में भारत विजय और धवन के साथ ओपनिंग कर सकता है. इसके बाद पुजारा, कोहली और रहाणे का नंबर आएगा. कोहली अगर छह बल्लेबाजों के साथ खेलते हैं तो रोहित छठे नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे. कोहली कहते हैं, ''इस बल्लेबाजी क्रम में कोई भी स्लॉट अटल नहीं है. हम स्थितियों और टीम की जरूरतों के आधार पर खिलाडिय़ों की भूमिका तय करेंगे.''

कोहली की टीम और 2000 में टीम की बागडोर संभालने वाले सौरभ गांगुली की टीम के बीच तुलना करने का लोभ स्वाभाविक है. गांगुली की टीम में सचिन तेंडुलकर, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले जैसे कई दिग्गज खिलाड़ी थे, लेकिन यह भी सही है कि उन्होंने वीरेंद्र सहवाग, युवराज सिंह, जहीर खान और हरभजन सिंह जैसे युवा खिलाडिय़ों पर भरोसा करके मजबूत टीम खड़ी की थी. अब कोहली के पास भी वैसा ही मौका है. गांगुली कहते हैं, ''मैं नहीं समझता कि विराट की कप्तानी की तुलना मुझसे या द्रविड़ से या धोनी से की जानी चाहिए. कोहली का जज्बा मुझे दिएगो माराडोना की याद दिलाता है.''

इस टीम को कोहली और टीम के निदेशक रवि शास्त्री के बीच तालमेल से भी फायदा हो रहा है. कोहली और उनकी टीम को अब दक्षिण अफ्रीका की सीरीज में अगर बड़ी जीत मिलती है तो भारत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल की रैंकिंग में नंबर दो के स्थान पर पहुंच जाएगा. टेस्ट क्रिकेट में चार साल तक अंधेरी सुरंग के बाद अब रोशनी नजर आने लगी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay