एडवांस्ड सर्च

नई सोचः हैं तैयार हम

कॉन्सेप्ट स्केच और कार्डबोर्ड मॉक-अप के साथ शुरू करके, फ्रेम की मजबूती, पावर डिलिवरी और संतुलन सुनिश्चित करने से जुड़ी गणनाओं के बाद धातु के फ्रेम हाथ से ढाले गए थे.

Advertisement
aajtak.in
मृणि देवनानीनई दिल्ली, 18 March 2020
नई सोचः हैं तैयार हम टेस्ट ड्राइव ऐक्शन में वान (बाएं) और विजन

मृणि देवनानी

दो का दम

मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के छात्रों ने इलेक्ट्रिक हब-रहित रेसिंग बाइक वान (वीएएएएन) और कंप्यूटर स्पोटर्स बाइक विजन (वीआइएसआइओएन) विकसित किया है. वान को विवेक तिवारी, अंशुल अवस्थी, आयुष रस्तोगी, नीलांजन दास और अभिषेक शिंदे की टीम ने रेसिंग के लिए डिजाइन किया था. उनके डिजाइन को पारंपरिक ब्रेकिंग सिस्टम की जरूरत नहीं है—पहिए के घुमाव को टायर के फ्रेम और सेंटर रिंग के बीच फंसे बेयरिंग से नियंत्रित किया जाता है.

विजन को रोहित कुमार जादव, जतिन मल्होत्रा, सौमेंदु दत्ता और गुरपाल सिंह की टीम ने विकसित किया है. इसमें एक स्वदेशी रूप से डिजाइन की गई मोटर है जो 'अल्ट्रा मोड' में 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है ( बाइक 'हाइ' तथा 'लो' मोड में क्रमश: 55 किमी प्रति घंटे और 40 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड प्राप्त कर सकती है). दिलचस्प कि बाइक चेन या बेल्ट रहित ड्राइव हब-आधारित मोटर पर चलती है.

प्रोटोटाइप का निर्माण कैंपस में ही हुआ. कॉन्सेप्ट स्केच और कार्डबोर्ड मॉक-अप के साथ शुरू करके, फ्रेम की मजबूती, पावर डिलिवरी और संतुलन सुनिश्चित करने से जुड़ी गणनाओं के बाद धातु के फ्रेम हाथ से ढाले गए थे. आंतरिक दहन इंजन के साथ ई-बाइक के इन नमूनों का विकास अहम चरण है जो उल्लेखनीय पारिस्थितिक लाभ प्रदान करता है.

जहां ठहर जाती हैं निगाहें

दोनों प्रोटोटाइप को शारदा यूनिवर्सिटी ने फंड दिया था; वान की कीमत 2.8 लाख रुपए और विजन की कीमत 1.9 लाख रुपए है. उन्हें फरवरी, 2020 में ऑटो एक्सपो के 15वें संस्करण में प्रदर्शित किया गया था. बाइक के डिजाइन पेटेंट के लिए आवेदन किए गए थे.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay