एडवांस्ड सर्च

कला-गांधी के पदचिन्ह

जी.आर. इरन्ना पादुकाओं के साथ दांडी मार्च को फिर से उकरेती अपनी कलाकृतियों को लेकर लेवेनिस के सफर पर निकल रहे हैं

Advertisement
aajtak.in
चिंकी सिन्हा/ संध्या द्विवेदी/ मंजीत ठाकुर नई दिल्ली, 02 May 2019
कला-गांधी के पदचिन्ह विक्रांत शर्मा

कलाकार जी.आर. इरन्ना ने एक बार साधुओं को अपनी पादुकाओं में ठुकी कीलों पर खड़ा देखा था. उनके पैरों से खून बह रहा था और वे कह रहे थे, ''हमें पैसे दो वरना हम खुद को इसी तरह यातना देते रहेंगे. 2016 में राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय, बेंगलूरू में इरन्ना के काम की प्रदर्शनी में कीलों वाली उन पादुकाओं को जगह मिली. वैसे पादुकाओं को 2005 से ही उनकी कलाकृतियों में जगह मिलती आई है. फर्श पर उनका एक ढेर लगा हुआ है और उन्हें किसी गल्प का हिस्सा बनने का इंतजार है. इरन्ना कहते हैं, ''यह मेरे लिए शांति का प्रतीक है. अहिंसा की नींव पर सब कुछ खड़ा किया जा सकता है."

अतुल डोडिया, जितिश कल्लाट और नंदलाल बोस जैसे कलाकारों के साथ इरन्ना 8 मई से शुरू हो रही 58वीं वेनिस द्वैवार्षिकी में अपनी कलाकृतियां प्रदर्शित करेंगे जिसका शीर्षक है अवर टाइम फॉर ए फ्यूचर केयरिंग. इस आयोजन के लिए भारतीय पेवेलियन किरण नाडर म्युजियम ऑफ आर्ट ने क्यूरेट किया है.

इरन्ना कहते हैं, इसके पीछे विचार गांधी का प्रतिनिधित्व करना है लेकिन उनकी तस्वीरों से आगे बढ़कर कुछ करना भी है. दांडी मार्च को उकेरते उनके इंस्टॉलेशन (पिकनिक गार्डन) में सैकड़ों पादुकाओं का ढेर होगा.

कुछ पादुकाओं का उन वस्तुओं के साथ संयोजन किया गया है, जिनके बारे में इरन्ना का कहना है कि उन्हें कई पुराने बाजारों से एकत्र किया गया है. इरन्ना एक रेजर और चाकू का इस्तेमाल करते हुए एक नाई की कैंची का पादुका के साथ संयोजन करते हैं, ''इसके जरिए यह कहने की कोशिश हुई कि एक कैंची व्यापार का औजार है. यह हथियार भी हो सकती है, लेकिन एक नाई इसका उपयोग केवल बाल काटने के लिए करता है."

उनकी कलाकृतियों में घुंघरू एक नर्तकी का प्रतिनिधित्व करते हैं, वुजू में काम आने वाला एक मग एक मुस्लिम का प्रतिनिधित्व करता है और नमक एकता और आत्मनिर्भरता का प्रतीक है. इरन्ना के इस मार्च में, उनकी दादी कल्वा भी अपनी चूडिय़ों के जरिए मौजूद हैं क्योंकि इरन्ना ने गांधी के बारे में कहानियां अपनी दादी से ही सुनी थीं.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay