एडवांस्ड सर्च

मेहुल चौकसीः गहनों की जगमगाहट गायब

देश के सबसे रसूखदार ज्वेलर मेहुल चौकसी की कंपनी गीतांजलि जेक्वस जब शिखर पर थी, तब इसके 4,000 शोरूम थे

Advertisement
इंडिया टुडेनई दिल्ली,गुजरात, 31 December 2018
मेहुल चौकसीः गहनों की जगमगाहट गायब रचित गोस्वामी

देश के सबसे रसूखदार ज्वेलर मेहुल चौकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स जब शिखर पर थी, तब इसके 4,000 शोरूम थे. नक्षत्र और गिली सहित प्रमुख ब्रान्ड नामों के साथ देश के संगठित ज्वेलरी बाजार में इसकी हिस्सेदारी 50 फीसदी से ज्यादा थी. मगर नीरव मोदी घोटाले के बाद से ही चौकसी भी जांच एजेंसियों के रडार पर आ गया. उसके ऊपर भी 34 भारतीय बैंकों की 6,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की देनदारी है. कर्ज लेने के लिए उसने मोदी सरीखे तरीकों का इस्तेमाल किया. वह भी देश से भाग गया और एंटीगुआ में छिपा है.

चौकसी का दावा है कि वह इस कैरिबियाई देश में अपना कारोबार बढ़ाने और "130 के आसपास देशों की वीजा मुक्त यात्रा हासिल करने'' की गरज से गया है. उसने अपने खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय के मामले को खारिज करते हुए कहा कि वह देनदारी चुकाने के लिए पंजाब नेशनल बैंक के साथ लिखत-पढ़त कर रहा है.

मोदी और चौकसी के बाद विनसम डायमंड घोटाले में इस कंपनी के प्रमोटर जतिन मेहता ने बैंकों को कथित तौर पर 6,800 करोड़ रुपए का चूना लगाया है. जाहिर है, हीरों के कारोबार ने अफसरों और कारोबरियों के गठजोड़ को बेनकाब कर दिया है जो खजाना लूटने पर आमादा था.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay