एडवांस्ड सर्च

आवरण कथा-फैशन के उस्ताद

टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में घट रहे ताजातरीन घटनाक्रमों को तेजी से अपने यहां लाने और अपने तालीम देने के तौर-तरीकों में शामिल करने में माहिर इस संस्थान ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और ब्लॉक चेन टेक्नोलॉजी पर भी काम करना शुरू कर दिया है.

Advertisement
शेली आनंदनई दिल्ली, 24 May 2019
आवरण कथा-फैशन के उस्ताद बुनियादी सीख एनआइएफटी के स्टुडेंट कताई बुनाई सीखते हुए

देश के तकरीबन 70 फीसदी फैशन डिजाइनर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (एनआइएफटी या निक्रट)-दिल्ली से पढ़कर निकले हैं. यह भारत का अकेला संस्थान है जिसने 2017 में दुनिया के 20 बेहतरीन फैशन संस्थानों में जगह हासिल की थी. इस संस्थान ने अपने छात्रों में हमेशा रचनात्मक सोच को बढ़ावा दिया है और इसी की बदौलत यह फैशन की शिक्षा के मामले में आज अग्रणी संस्थान है.

केंद्रीय कपड़ा मंत्रालय के तत्वावधान में और स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ न्यूयॉर्क फैशन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के तकनीकी सहयोग से 1986 में स्थापित निफ्ट-दिल्ली ने अपनी 33 साल की मौजूदगी में न केवल बेहतरीन से बेहतरीन डिजाइनरों को प्रशिक्षित किया और हुनरमंद बनाया है, बल्कि भारत को उसके कुछ शीर्ष डिजाइनर भी दिए हैं. निफ्ट-दिल्ली की कैंपस डायरेक्टर प्रोफेसर वंदना नारंग के मुताबिक, ''सबसे पुराना निफ्ट कैंपस होने के नाते हमारे पास सीनियर संकाय सदस्य हैं जिनमें अपने काम को लेकर जुनून है और अपने काम को अपना समझने का गहरा जज्बा भी है. यही वे चीजें हैं जो संस्थान को दूसरों से अलग और अनोखा बनाती हैं.''

मान्यता और प्रतिष्ठा हासिल करने के बाद किसी भी संस्थान के लिए जहां सुस्त पड़ जाना बहुत आसान है, वहीं निफ्ट-दिल्ली अपने तमगों और इनामों के भरोसे रहने से इनकार करता है. यह हमेशा खुद को नए सिरे से ईजाद करता है और बार-बार अपना मूल्यांकन करता है.

इसी लगातार विकसित होने की प्रक्रिया की एक मिसाल थी 2017 में इसके पाठ्यक्रम का पूरा कायापलट. नारंग कहती हैं, ''उद्योग और टेक्नोलॉजी में आ रहे बदलावों को ध्यान में रखते हुए हमने पाठ्यक्रम पर नए सिरे से काम किया और उसमें उथल-पुथल मचाने वाले बदलाव किए, ताकि हमारे विद्यार्थी आज के वक्त की जरूरत की चीजें सीख सकें.''

नया पाठ्यक्रम फैशन डिजाइन के छात्रों को मैनेजमेंट और टेक्नोलॉजी सरीखे कोर्स में स्नातक अध्ययन का मौका देता है और साथ ही हरेक सेमेस्टर में दो सामान्य वैकल्पिक कोर्स का भी—जो व्यक्तित्व विकास, संचार कौशल, योग और ध्यान, भाषाओं तथा सांस्कृतिक अध्ययन से जुड़े हैं.

टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में घट रहे ताजातरीन घटनाक्रमों को तेजी से अपने यहां लाने और अपने तालीम देने के तौर-तरीकों में शामिल करने में माहिर इस संस्थान ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और ब्लॉक चेन टेक्नोलॉजी पर भी काम करना शुरू कर दिया है.

नारंग कहती हैं, ''पाठ्यक्रम को बदलने और नई टेक्नोलॉजी लाने की जरूरत थी, क्योंकि हमें एहसास हुआ कि हम 21वीं सदी के छात्रों को 20वीं सदी की तकनीकों और 18वीं सदी के पाठ्यक्रम से पढ़ा रहे हैं.'' फैशन खुद को नए सिरे से ईजाद कर रहा है और इसका मतलब ही है बदलाव, लिहाजा फैशन की शिक्षा में अध्ययन के नए क्षेत्र उभर आए हैं.

सर्फेस ऑर्नामेंटेशन या सतह अलंकरण खास लोगों को लुभाने वाला ऐसा ही एक खास क्षेत्र है; दस्तकारी भी ऐसी ही एक और धारा है.

अगर खादी के कपड़े अहम रुझान हैं, तो टिकाऊ और धीमे फैशन भी दूसरे छोर पर इतना ही अहम रुझान हैं. संस्थान हमेशा पक्का करता है कि उसके छात्रों को अपने कोर्स के दौरान ऐसे रुझानों की पूरी मालूमात हो और इन्हें लेकर उन्हें संवेदनशील बनाया जाए.

निफ्ट-दिल्ली में दाखिला लेने के लिए किसी भी छात्र में जज्बा और जुनून होना बहुत जरूरी है, वहीं बारीकियों में जाने की काबिलियत, रंग का बोध और बुनियादी ड्राइंग की योग्यता ऐसे दूसरे हुनर हैं जो उनमें होने चाहिए. कोर्स इतनी कड़ी मेहनत की मांग करता है कि इसके पूरा होने पर छात्र का पूरा का पूरा कायापलट होते देखा जा सकता है. कैंपस में चार साल की पढ़ाई के बाद वे पूरी तरह परिष्कृत और हुनरमंद होकर निकलते हैं.

गुरुवाणी

प्रोफेसर वंदना नारंग

कैंपस डायरेक्टर, निफ्ट-दिल्ली

वह कौन-सी चीज है जो हमें दूसरों से बेहतर बनाती है?

निक्रट का हमारा कैंपस सबसे पुराना है और सबसे सीनियर फैकल्टी सदस्य हमारे पास हैं

हम लगातार खुद को नए सिरे से ईजाद करते और बार-बार मूल्यांकन करते हैं

हम अपने छात्रों को रचनात्मक और आलोचनात्मक सोच से भरते हैं

पिछले तीन साल के नए काम

इंडस्ट्री की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए पाठ्यक्रम पर नए सिरे से काम किया गया है और नए विषय शुरू किए गए हैं

एक चीज जो मैं संस्थान में

सुधारना चाहूं

कैंपस का विस्तार करने के लिए और ज्यादा जगह

वह क्या है जो निफ्ट में छात्र को दूसरों से बेहतर बनाता है?

जज्बा, जुनून, बारीकियों में जाने की जिज्ञासा

आया इम्तहान

निफ्ट कोलकाता के छात्र एक फैशन शो की तैयारी करते हुए

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay