एडवांस्ड सर्च

कैमरे के सामने जिंदगी के धुंधलकों की तहकीकात करता एक अभिनेता

विकी कौशल, अभिनेता, उनके मार्गदर्शक में क्या खास है, थ्योरी बनाम प्रेक्टिस और अपने भीतरी भ्रष्टाचार की खोज के बारे में

Advertisement
aajtak.in
सुकांत दीपकमुबंई,दिल्ली, 19 September 2018
कैमरे के सामने जिंदगी के धुंधलकों की तहकीकात करता एक अभिनेता विकी कौशल, अभिनेता

अभिनेता विकी कौशल से सुकांत दीपक की बातचीतः

विकी कौशल कौन है?

वह लड़का है जो ब्लैक फ्राइडे की शूटिंग के दौरान अनुराग कश्यप को चाय पेश करता था जब वे मेरे ऐक्शन डायरेक्टर पिता से मिलने के लिए हमारी चाल में आते थे. विकी वह शख्स है जिसके दिमाग में अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री के दौरान प्रीसिजन ड्राइंग सीखते वक्त ही यह साफ था कि वह कैमरे के सामने जिंदगी के धुंधलकों की तहकीकात करना चाहता है.

मनमर्जियां में डायरेक्टर अनुराग कश्यप के साथ काम करने का तजुर्बा कैसा रहा?

उनके साथ खास बात यह है कि वे आपको किरदार के मायने निकालने की इजाजत देते हैं; वे कतई तानाशाह नहीं हैं और आपकी अक्लमंदी पर भरोसा करते हैं. मैं हमेशा जानता था कि यह बहुत दिलकश होगा. जोर नहीं डालना ही आपसे अपना बेहतरीन निकलवाने के लिए उनके जोर डालने का तरीका है.

आपने उनके साथ गैंग्स ऑफ वासेपुर में असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर शुरुआत की थी. कैमरे के पीछे जाने का कोई मंसूबा?

नहीं. मैं असिस्टेंट इसलिए था क्योंकि मैं फिल्ममेकिंग समझना चाहता था. मैं कभी फिल्म स्कूल नहीं गया और कैमरे के आगे गुम होना नहीं चाहता था.

आपने मसान से जुबान तक किस्म-किस्म के किरदार निभाए हैं. रमन राघव में एक भ्रष्ट पुलिस वाले के किरदार को जानदार बनाना कितना मुश्किल था?

अभी तक यह मेरी सबसे मुश्किल भूमिका थी. असल जिंदगी में यह किरदार मुझसे इतना अलहदा और दूर था कि उससे जुड़ पाना तकरीबन नामुमकिन था. मगर यह चुनौती थी और यही वजह थी कि मैं इसे निभाना चाहता था. उन 21 दिनों की शूटिंग के दौरान डरावनी लोकेशनों पर मैंने अपने भीतर के अंधेरे कोनों की खोज की.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay