एडवांस्ड सर्च

लोकसभा चुनाव के विभिन्न चरणों में किसका पलड़ा था भारी

देश की सत्ता की चाबी के लिए राजनीतिक दलों को सात चरणों के चुनाव में परीक्षा पास करनी होगी. इन सात चरणों में कितनी सीटों पर होगी वोटिंग और किन दलों का पलड़ा रहा था पिछले चुनाव में भारी?

Advertisement
जवाहर लाल नेहरू 11 March 2019
लोकसभा चुनाव के विभिन्न चरणों में किसका पलड़ा था भारी फोटो सौजन्यः इंडिया टुडे

चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव 2019 की तारीख़ का ऐलान कर दिया है. इस बार लोकसभा चुनाव 7 चरणों में  होंगे. 11 अप्रैल को पहले चरण के लिए वोट डाले जाएंगे, जबकि 19 मई को सातवें चरण के लिए वोट डाले जाएंगे. मतगणना 23 मई को होगी. 

कैसे-कैसे होगे चुनाव

पहला चरण

पहले चरण में 11 अप्रैल को 91 सीटें के लिए वोट डाले जाएगें. इसमें 20 राज्यों में मतदान होगा. आंध्र प्रदेश की सभी 25 सीटों पर, अरुणाचल की 2 सीटों, असम की 5 सीटों, बिहार की 4 सीटों, छत्तीसगढ की 1 सीट, जम्मू कश्मीर की 2 सीटों, महाराष्ट्र की 7 सीटों, मणिपुर की 1 सीट, मेघालय की 2 सीट, मिजोरम की 1 सीट, नागालैंड की 1 सीट, ओडिशा की 4 सीटों, सिक्किम की 1 सीट, तेलंगाना की सभी 17 सीटों, त्रिपुरा की 1 सीट, उत्तर प्रदेश की 08 सीटों, पश्चिम बंगाल की 2 सीटों, अंडमान -निकोबार द्वीपसमूह और लक्षदीव की 1-1 सीट शामिल हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 91 सीटों में से भाजपा ने 32, शिव सेना ने 2, कांग्रेस ने 7, टीआरएस ने 11, टीडीपी ने 16, टीएमसी ने 2, बीजद ने 4 और अन्य ने 17 सीटों पर जीत दर्ज की थी.

दूसरा चरण

दूसरे चरण में 13 राज्यों की 97 लोकसभा सीटों के लिए 18 अप्रैल को मतदान होंगे. इसमें असम की 5, बिहार की 5, छत्तीसगढ़ की 3 सीट, जम्मू-कश्मीर की 2 सीटों, कर्नाटक की 14, महाराष्ट्र की 10 सीटों, मणिपुर की 1 सीट, ओडिशा की 5 सीटों, तमिलनाडु की सभी 39 सीटों, त्रिपुरा की 1 सीट, उत्तर प्रदेश की 08 सीटों, पश्चिम बंगाल की 3 सीटों और पुदुच्चेरी की 1 सीट शामिल हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 97 सीटों में से भाजपा ने 27, शिवसेना ने 4, कांग्रेस ने 12, अन्नाद्रमुक ने 37,  टीएमसी ने 1, बीजद ने 4 और अन्य ने 12 सीटों पर जीत दर्ज की.

तीसरा चरण

तीसरे चरण में 14 राज्यों की 115 सीटों पर 23 अप्रैल को मतदान होंगे. इसमें असम की 4, बिहार की 5, छत्तीसगढ़ की 7, गुजरात की सभी 26 सीटों, गोवा की सभी 2 सीटें, जम्मू-कश्मीर की 1 सीट, कर्नाटक की 14, केरल की सभी 20 सीटों, महाराष्ट्र की 14 सीटों, ओडिशा की 6 सीटों, उत्तर प्रदेश की 10 सीटों, पश्चिम बंगाल की 5 सीटों और दादरा और नगर हवेली और दमन एवं दीव की 1-1 सीट शामिल हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 115 सीटों में से भाजपा ने 62, शिव सेना ने 3, कांग्रेस ने 16, टीएमसी ने 1, बीजद ने 4 और अन्य ने 30 सीटों पर जीत दर्ज की.

चौथा चरण

चौथे चरण में 9 राज्यों की 71 लोकसभा सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगा. इसमें बिहार की 5, जम्मू-कश्मीर की 1, झारखंड की 3, मध्य प्रदेश की 6, महाराष्ट्र की 17, ओडिशा की 6, राजस्थान की 13, उत्तर प्रदेश की 13 और पश्चिम बंगाल की 8 सीटें शामिल है.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 71 सीटों में से भाजपा ने 45, शिव सेना 9, कांग्रेस ने 2, टीएमसी ने 6, बीजद ने 6 और अन्य ने 3 सीटों पर जीत दर्ज की.

पांचवां चरण

पांचवें चरण में 7 राज्यों की 51 सीटों पर 6 मई को मतदान होगें. इसमें बिहार की 5, जम्मू-कश्मीर की 2, झारखंड की 4, मध्य प्रदेश की 29, राजस्थान की 12, उत्तर प्रदेश की 14 और पश्चिम बंगाल की 7 सीटें शामिल हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 51 सीटों में से भाजपा ने 39, कांग्रेस ने 2, टीएमसी ने 7 और अन्य ने 3 सीटों पर जीत दर्ज की.

छठा चरण

छठे चरण में सात राज्यों की 59 सीटों पर 12 मई को मतदान होगा. इसमें बिहार की 8, हरियाणा की सभी 10, झारखंड की 4, मध्य प्रदेश की 8, यूपी की 14, पश्चिम बंगाल की 8, दिल्ली की सभी 7 सीटें शामिल हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 59 सीटों में से भाजपा ने 44, कांग्रेस ने 2, टीएमसी ने 8 और अन्य ने 5 सीटों पर जीत दर्ज की.

सातवां चरण

सातवें और अंतिम चरण में आठ राज्यों की 59 सीटों पर 19 मई को मतदान होगा. इसमें बिहार की 8, झारखंड की 3, मध्य प्रदेश की 8, पंजाब की सभी 13, पश्चिम बंगाल की 9, चंडीगढ़ की 1, यूपी की 13, हिमाचल की सभी 4 सीटें शामिल हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में इन 59 सीटों में से भाजपा ने 33, कांग्रेस ने 3, टीएमसी ने 9 और अन्य ने 14 सीटों पर जीत दर्ज की.

जाहिर है, इन सभी चरणों में सभी पार्टियों को अपना पसीना बहाना होगा. गौरतलब है कि 2014 के चुनाव में मतदान 9 चरणों में संपन्न हुए थे.

(जवाहरलाल नेहरू आइटीएमआइ के छात्र हैं और इंडिया टुडे में प्रशिक्षु हैं)

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay