एडवांस्ड सर्च

गूगल Guru को डूडल का सलाम, टीचर्स को इस अंदाज में दिया सम्मान

गूगल गुरु ने शानदार डूडल के जरिए ऐसे दी टीचर्स डे की शुभकामनाएं...

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 05 September 2019
गूगल Guru को डूडल का सलाम, टीचर्स को इस अंदाज में दिया सम्मान गूगल डूडल

किसी भी खास मौके पर गूगल एक अलग ही अंदाज में डूडल बनाता है. आज शिक्षक दिवस है. इसी मौके पर गूगल ने एक बहुत ही प्यारा सा डूडल तैयार किया है. जिसमें गूगल ने डूडल में एक एनिमेटेड, मुस्कुराते हुए लाल रंग के ऑक्टोपस के टेंपल्स का इस्तेमाल करते हुए कई कार्यों को करते हुए दिखाया गया है. जिसमें प्रयोगों का संचालन करना, जटिल समीकरणों को हल करना, नोट्स लेना और साथ ही पढ़ना शामिल है.

आपको बता दें, भारत में हर साल पूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि देने के लिए शिक्षक दिवस मनाया जाता है. डॉ राधाकृष्णन एक दार्शनिक, विद्वान, राजनीतिज्ञ और एक अनुकरणीय शिक्षक थे. वह देश के पहले उपराष्ट्रपति और उसके दूसरे राष्ट्रपति थे.

उनका जन्म 5 सितंबर, 1888 को तमिलनाडु में हुआ था. वह चेन्नई के प्रेसीडेंसी कॉलेज और कलकत्ता (अब कोलकाता) विश्वविद्यालय में पढ़ाते थे. वह 1931 से 1936 तक आंध्र विश्वविद्यालय के कुलपति रहे. 1962 में, वे देश के राष्ट्रपति बने.

स्वभाव से राधाकृष्णन जमीन से जुड़े हुए व्यक्ति थे. उन्हें उनके शांत और सरल स्वभाव के लिए भी जाना जाता था. जब वे राष्ट्रपति बने, तो उन्होंने अपने शुभचिंतकों को स्पष्ट रूप से बताया कि वे अपना जन्मदिन मनाने के बजाय 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं.

उन्होंने कहा था- "मेरा जन्मदिन मनाने के बजाय, यह मेरा सौभाग्य होगा अगर 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है," तब से, उनके जन्मदिन को भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है. डॉ. राधाकृष्णन के राष्ट्रपति बनने पर शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा शुरू हुई.

डॉ राधाकृष्णन को 1954 में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था. उन्हें नोबेल पुरस्कार के लिए 27 बार नामांकित किया गया था.  साहित्य में नोबेल पुरस्कार के लिए 16 बार और नोबेल शांति पुरस्कार के लिए 11 बार नामांकित किया गया था.

आपको बता दें, आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दिल्ली में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में  देश भर के 46 शिक्षकों को 'राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार' सम्मानित करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay