एडवांस्ड सर्च

Advertisement

1.5 अरब आबादी का प्रतिनिधित्व करता है BIMSTEC, जानिए 10 बातें

बिम्स्टेक सम्मेलन में हिस्‍सा लेने काठमांडू पहुंचे पीएम मोदी, जानें- इससे जुड़ी ये खास बातें...
1.5 अरब आबादी का प्रतिनिधित्व करता है BIMSTEC, जानिए 10 बातें पीएम मोदी बिम्स्टेक सम्मेलन में...
aajtak.in [Edited by: प्रियंका शर्मा]नई दिल्ली, 30 August 2018

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काठमांडू पहुंच गए हैं. चार साल में पीएम मोदी का नेपाल का ये चौथा दौरा है. प्रधानमंत्री यहां 'बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर सेक्टोरल टेक्नीकल एंड इकॉनोमिक को-ऑपरेशन' (BIMSTEC Summit) के चौथे सम्मेलन में शामिल होंगे.

इसी मौके पर जानते हैं बिम्स्टेक से जुड़ीं ये 10 बातें.. 

1- जून 1997 को बैंकॉक के घोषणापत्र के माध्यम बिम्सटेक को अस्तित्व में लाया गया था.

2. बिम्सटेक का हेडक्वार्टर ढाका, बांग्लादेश में है.

3 - इसमें बंगाल की खाड़ी क्षेत्र में बसे सात देश-बांग्लादेश, भूटान, भारत, म्यांमार, नेपाल, श्रीलंका और थाइलैंड शामिल हैं.

4. बता दें, इस साल बिम्सटेक का ये चौथा सम्मेलन नेपाल में आयोजित हो रहा है. इससे पहले 3 सम्मेलन आयोजित हो चुके हैं, पहली बार 31 जुलाई 2004 में थाईलैंड, दूसरी बार 13 नवंबर 2008 में भारत, तीसरी बार 2014 में म्यामांर में आयोजित हुआ था.

5. समूह में शामिल सात देशों की आबादी 1.5 अरब है जोकि दुनिया की आबादी का 21 फीसदी है. इस समूह का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 2500 अरब डॉलर है.

6. बिम्सटेक का 14 मुख्य उद्देश्य है. जिसमें बंगाल की खाड़ी के किनारे दक्षिण एशियाई और दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के बीच तकनीकी और आर्थिक सहयोग शामिल है.

7. साथ ही निवेश, टेक्नोलॉजी, टूरिज्म, ह्यूमन रिसोर्स डेवलेपमेंट, कृषि,  मत्स्य पालन, परिवहन और संचार, कपड़ा, चमड़ा आदि शामिल है.

8. बिम्सटेक का मुख्य उद्देश्य बंगाल की खाड़ी क्षेत्र में स्थित दक्षिण एशियाई और दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के बीच तकनीकी और आर्थिक सहयोग स्थापित करना है.

9.एक्ट ईस्ट पॉलिसी और नेबरहुड फर्स्ट पॉलिसी को लेकर बिम्सटेक भारत के लिए महत्वपूर्ण है.

10. ये सम्मेलन 30 अगस्त को शुरू हो रहा है. जिसमें समूह के नेता संयुक्त बैठक करेंगे. इसी दिन दोपहर में पूर्ण सत्र होगा. इस दिन रात्रि में सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं रात्रि भोज होगा. अगले दिन 31 अगस्त को सदस्य देशों के नेताओं की मुलाकात एवं बैठकें होंगी. वहीं दोपहर के बाद समापन की प्रक्रिया की जाएगी.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay