एडवांस्ड सर्च

जानिए संव‌िधान में दिए गए हमारे अधिकारों के बारे में

जानिए संव‌िधान में दिए गए हमारे उन अधिकारों के बारे में, जिन्हें जानना आपके लिए ज़रूरी है.

Advertisement
aajtak.in
ऋचा मिश्रा नई दिल्‍ली, 11 April 2016
जानिए संव‌िधान में दिए गए हमारे अधिकारों के बारे में Indian law

ज़िंदगी में दो वक्त की रोटी के लिए भागदौड़ और जागरुकता की कमी के चलते आम भारतीय नागरिक के पास अपने अधिकारों की जानकारी भी नहीं होती. जानिए संव‌िधान में दिए गए हमारे उन अधिकारों के बारे में, जिन्हें जानना आपके लिए ज़रूरी है.

1. गर्भवती महिला को सुरक्षा:
भारतीय कानून के मुताबिक देश में कोई भी कंपनी गर्भवस्था के दौरान किसी भी महिला कर्मचारी को नौकरी से नहीं निकाल सकती है. ऐसा करने पर कार्रवाई का प्रावधान है.

2. टॉयलेट में पानी!
कानून के मुताबिक हर होटल को बिना कोई शुल्क लिए टॉयलेट में पानी मुहैया कराना चाहिए. ऐसा न करना कानूनन अपराध है.

3. जानने का अधिकार!
किसी भी शख़्स को गिरफ्तारी से पहले ये जानने का अधिकार है कि उस पर आरोप क्या हैं. साथ ही किस आधार पर उसको गिरफ्तार किया जा रहा है.

4. महिला कांस्टेबल ज़रूरी :
पुलिस क‌िसी भी महिला को बिना महिला पुलिस कांस्टेबल के हिरासत में नहीं ले सकती. घर में दबिश डालने के दौरान भी महिला कांस्टेबल होना ज़रूरी है.

5. बेवक्त गिरफ्तारी नहीं!
पुलिस किसी भी महिला को सुबह होने से पहले और सूर्यास्त के बाद गिरफ्तार नहीं कर सकती है

6. बेटा-बेटी सब बराबर!
पैतृक संपत्ति में बेटों के साथ-साथ बेटियों का भी बराबर हक होता है. बेटियों को संपत्ति से वंचित नहीं किया जा सकता है.

7. पीड़िता को आज़ादी:
बलात्कार या यौन हिंसा की शिकार महिला को आज़ादी है कि वो पुलिस स्टेशन न जाकर, घर पर ही अपना बयान दर्ज करा सकती है.

8. वाहन चलाने के नियम!
ज़रूरी नहीं है कि आप गाड़ी या स्कूटर चलाते वक्त सभी असली कागज़ात साथ रखें. ड्राइविंग करते वक्त लाइसेंस और पॉल्यूशन सर्टिफ‌िकेट असली होना चाहिए. इंश्योरेंस और कार की RC की फोटो कॉपी भी चलेगी. इसके लिए आपका चालान नहीं कट सकता.

सौजन्‍य: NEWSFLICKS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay